CM शिवराज की समीक्षा के बाद कलेक्टर ने सख्त लॉकडाउन लगाया तो कैलाश विजयवर्गीय ने कहा- जरूरत क्या है ऐसे तानाशाहीभरे फैसले की

इंदौरमेंसख्तलॉकडाउनलगनेकेबादअबप्रशासनऔरपॉलिटिक्सशुरूहोगईहै।गुरुवारकोकोरोनासमीक्षाकेबादजैसेहीमुख्यमंत्रीशिवराजसिंहचौहानभोपाललौटे।कुछदेरबादसख्तलॉकडाउनकाआदेशप्रशासननेजारीकरदिया।इससख्तीकेपीछेकलेक्टरमनीषसिंहनेतर्कदियाहैकिइंदौरमेंकोरोनाकीसंक्रमणदरकाबूमेंआरहीहै।इसे30तारीखतककाबूमेंकरनेकेलिएकुछकड़ेनिर्णयलेनापड़रहेहैं।इसेशिवराजसिंहकीसहमतिसेलियानिर्णयमानाजारहाथालेकिनइसमेंफैसलेपरभाजपामेंहीफूटसामनेआगईहै।इसनिर्णयपरभाजपाकेमहासचिवकैलाशविजयवर्गीयनेअसहमतिजतातेहुएकहाकिआखिरक्याजरूरतहैएकअलोकतांत्रिकऔरतानाशाहीभरेनिर्णयकी।पुनर्विचारकीमांगकी।वेपहलेभीकुछमुद्दोंपरसरकारकेफैसलोंपरइंदौरकेमामलेमेंहैरानीजताचुकेहैं।

क्याकहाविजयवर्गीयने...आखिरक्याजरूरतहैएकअलोकतांत्रिकऔरतानाशाहीभरेनिर्णयकोइंदौरजैसेअनुशासितशहरपरथोपनेकी,जिसनिर्णयकीसर्वत्रनिंदाहोरहीहो,उसपरपुनर्विचारहोनाहीचाहिए।प्रशासनऔरजनप्रतिनिधियोंकोमिलकरविचारकरनाचाहिए।

क्याबोलेकलेक्टर-आदेशकोलेकरउन्होंनेकहा-इंदौरमेंकोरोनाकीसंक्रमणदरकाबूमेंआरहीहै।इसे30तारीखतककाबूमेंकरनेकेलिएकुछकड़ेनिर्णयलेनापड़रहेहैं।चोइथराममंडी,सहितअन्यमंडीकोबंदकरनाजरूरीथा,क्योंकिवहांपरकेस्वरूपकोसुधारानहींजासकताहै।उनकेदोहीऑप्शनहैं,बंदरखनायाफिरचालूरखना।ग्रामीणऔरशहरीदोनोंहीक्षेत्रोंमेंसंक्रमणहै।शहरकीस्थितितोकाफीबेहतरहोगईहै।ऐसेमेंतयकियागयाकियदि1जूनसेशहरकोखोलनाहैतोकुछदिनकीसख्तीजरूरीहै।

मोघेभीइसलाॅकडाउनसेखुशनहीं

अचानककिरानाऔरफल-सब्जीकाविक्रयबंदकरनेसेकांग्रेसकेसाथभाजपानेताभीनाखुशहैं।वरिष्ठनेताकृष्णमुरारीमोघेनेकहाकिकिसानोंऔरव्यापारियोंनेसब्जियांवफलगोदाममेंरखेहैं।उन्हेंनिकालनेकेलिएकमसेकम12घंटेकासमयमिलनाचाहिएथा।एकाएकरोकसेउनकानुकसानहोगा।भाजपानेताजेपीमूलचंदानीऔरसुमितमिश्रानेभीकिसानोंवव्यापारियोंकेहितमेंउन्हेंसमयदेनेकीबातकहीहै।सोशलमीडियापरभीलोगतत्कालसबकुछबंदकरनेकाविराेधजतारहेहैं।

इंदौरमें10दिनसख्तलॉकडाउन,पहलादिन:घरसेबेवजहनिकले700सेज्यादाकोपकड़ा,थानेपरबैठाया;31मईसुबहतकरहसकतीहैऐसीहीसख्ती,कलेक्टरनेअफसरोंसेमांगाफीडबैक

1जूनसेऐसीहैशहरकोखोलनेकीप्लानिंग

कलेक्टरमनीषसिंहनेकहाकिराशनदुकानको7से8दिनकेलिएहीबंदकियाहै।इसकेबादयह1जूनसेखुलेगा।शुरुआतमेंहोसकताहैपहलेकीतरहइसकासमय12बजेतकहीरहे।इसकेसाथकंस्ट्रक्शनकोखोेलनेपरविचारचलरहाहै।इसेखाेलनेपरकईलोगोंकोरोजगारमिलेगा।थोककेव्यापारकोढीलदेनेकीकोशिशरहेगी।सभीदुकानोंकोखोलनेकीप्लानिंगरहेगी।रेस्टोरेंटमेंटेकअवेकीसुविधाशुरूकीजासकतीहै।ऐसाकरनेसेकिचनमेंरोजगारशुरूहोजाएगा।पहलेस्टेजमेंहमथोककोओपनकरेंगे।इसकेबादखेरचीखोलेंगे।इसकेअलावाजहांकेसआएंगे,वहांसख्तीकरकंटेनमेंटजोनबनाएंगे,जिससेयहखुलनाशहरकालंबेसमयतकचलसके।

इंदौर1जूनसेअनलॉक:पहलेकिरानादुकानेंखुलेंगी,फिरकंस्ट्रक्शनऔरथोककारोबार;रेस्टाेरेंटकोमिलेगीटेकअवेकीसुविधा