CM बेटे की महत्वाकांक्षी योजना 'राम वन गमन पथ' का विरोध किया; महिषासुर, रावण को बताया था महान योद्धा, दशहरा को मनाते हैं शोक दिवस

छत्तीसगढ़केमुख्यमंत्रीभूपेशबघेलकेपितानंदकुमारबघेलप्रदेशमेंअपनेबयानोंसेलगातारविवादोंमेंघिरतेरहेहैं,हालांकियहपहलीबारहैकिउन्हेंजेलजानापड़ाहै।वैसेतोवेपहलेसेहीब्राह्मणविरोधीबयानदेतेरहेहैं,लेकिनपहलाचर्चितविवाद2001मेंउनकीपुस्तक‘ब्राह्मणकुमाररावणकोमतमारो’था।वेमहिषासुर,रावणकोमहानयोद्धाभीबताचुकेहैं।उनसेजुड़ेकुछप्रमुखविवाद।

प्रतिबंधितहै‘ब्राह्मणकुमाररावणकोमतमारो’पुस्तकनंदकुमारबघेलकीपुस्तक‘ब्राह्मणकुमाररावणकोमतमारो’मेंमनुस्मृतिऔरवाल्मिकीरामायण,तुलसीदासकेरामचरितमानसपरसमीक्षात्मकटिप्पणियांहैं।इसमेंबघेलनेरामकोकाल्पनिकचरित्रबतायाहै।लिखाहैकिसर्वणोंनेरामनामकाअस्तित्वदलितों,मूलनिवासियोंऔरआदिवासियोंपरराजकरनेकेलिएउन्हेंदबाने,कुचलनेकेलिएगढ़ाहै।इसमेंदक्षिणकेविचारकपेरियारकेविचारभीहैं।इसपुस्तकको2001मेंअजीतजोगीसरकारनेधार्मिकभावनाओंकोठेसपहुंचानेऔरवर्गोंकेबीचद्वेषबढ़ानेवालामानतेहुएप्रतिबंधितकरदियाथा।बघेलइसकेखिलाफहाईकोर्टगए,जहांहाईकोर्टकीफुलबेंचने17सालबादउनकीयाचिकाकोखारिजकरदीऔरपुस्तकपरबैनबरकराररखा।

रावणऔरमहिषासुरकोबतायामहानयोद्धा

नंदकुमारबघेलनेपिछलेकुछवर्षसेछत्तीसगढ़केगांवोंमेंदुर्गापूजाऔररावणवधकेखिलाफमुहिमछेड़रखीहै।वेगांव-गांवकादौराकरतेहैंऔरवहांकेआदिवासीसमुदायसेअपीलकरतेहैंकिवेविजयादशमीकोरावणदहननाकरें।2019मेंउन्होंनेदशहराकेकार्यक्रममेंरावणकोमहानयोद्धा,पुरखाबताकरविजयादशमीकोशोकदिवसकहाथा।वेसभीस्थानोंपरजाकरमहिषासुर,रावण,मेघनादकेपुतलेजलाएजानेऔरदुर्गापूजाकाविरोधकरतेहैं।कहतेहैंकिमहानयोद्धाओंकावधब्राह्मणसमाजबहुजनमूलसंस्कृतिकोअपमानितकरनेकेलिएकररहाहै।

रामवनगमनपथयोजनाकाविरोध

नंदकुमारबघेलनेअपनेबेटेछत्तीसगढ़केमुख्यमंत्रीभूपेशबघेलकीएकयोजनाकासार्वजनिकविरोधकिया।मुख्यमंत्रीनेदिसंबर2019मेंघोषणाकीथीकिभगवानरामअपनेवनवासकालमेंछत्तीसगढ़के51स्थानोंसेगुजरेथे।इनमेंसे9स्थानोंकाविकासरामवनगमनपथकेअंतर्गतकियाजाएगा।इन्हेंधार्मिकपर्यटनस्थलकेरूपमेंविकसितकियाजाएगा।नंदकुमारकुछआदिवासीसंगठनोंकेसाथइसयोजनाकेखिलाफखड़ेहोगए।उन्होंनेकहाकिइसयोजनासेबहुजन,दलितोंकीसंस्कृतिपरब्राह्मणसंस्कृतिथोपनेकाप्रयासकियाजारहाहै।यहआरएसएसऔरभाजपाकाएजेंडाहैभूपेशबघेलमोदीकोखुशकरनेकेलिएयहयोजनाबनारहेहैं।

सवर्णोंको10फीसदीआरक्षणकाविरोध

मोदीसरकारनेआर्थिकआधारपरसवर्णोंको10फीसदीआरक्षणदेनेकीघोषणाकीहै।इसघोषणाकानंदकुमारबघेलपूरेदेशमेंघूम-घूमकरविरोधकररहेहैं।उनकाकहनाहैकिइससेवंचितोंकेअधिकारपरडाकाडालाजारहाहै।सवर्णपहलेसेहीआर्थिक,सामाजिकरूपसेसंपन्नहैऐसेमेंइन्हेंकोईभीआरक्षणनहींदियाजानाचाहिए।बघेलइसीसिलसिलेमेंलगातारउत्तरप्रदेशमेंप्रदर्शनोंमेंशामिलहोरहेहैं।

कांग्रेसप्रत्याशियोंकेखिलाफप्रचार

चुनावकेदौरानऐसेकईकिस्सेहैंजबनंदकुमारबघेलनेसवर्णकांग्रेसीप्रत्याशियोंकेखिलाफचुनावप्रचारकिया।उन्होंनेऐसेचुनावमेंभीकांग्रेसप्रत्याशियोंकाविरोधकिया,जबउनकेपुत्रभूपेशबघेलकांग्रेसकेप्रदेशअध्यक्षथेअथवाबड़ेमहत्वपूर्णपदोंपरथे।

पत्नीकाअंतिमसंस्कारसनातनतरीकेसेनहीं

पिछलेवर्षउनकीपत्नीबिंदेश्वरीदेवीकानिधनहोगयाथा।उनकेपुत्रभूपेशबघेलनेअपनीमाताकाअंतिमसंस्कारसनातनधर्मकेअंतर्गतपूरेविधिविधानसेकिया,लेकिननंदकुमारबघेलनेअपनीपत्नीकाअंतिमसंस्कारबौद्धधर्मकेअंतर्गतअलगसेकिया।