छात्रों के भविष्य के लिए पुरातन छात्र आगे आए

संवादसूत्र,डीडीहाट:सरकारतोशिक्षाव्यवस्थामेंसुधारनहींकरपारहीहै।इधरअबविद्यालयोंकेपुरातनछात्रभविष्यसंवारनेकेलिएआगेआचुकेहैं।देशकेविभिन्नस्थानोंपरकार्यकररहेपुरातनछात्रोंद्वाराक्षेत्रकीप्रतिभाओंकोआगेलानेऔरमेधावीबच्चोंकोप्रोत्साहितकरनेकेलिएलगातारप्रयासकियाजारहाहै।

राइंकाडीडीहाटकेपुरातनछात्रवर्तमानमेंलखनऊमेंचिकित्सकडॉ.नंदनसिंहडसीलानेस्थानीयजीआइसीमेंएककार्यक्रमआयोजितकिया।जिसमेंजीआइसीकेछात्र-छात्राओंकोकरियरसंबंधीजानकारीदी।उन्होंनेकहाकिपहाड़मेंशिक्षाकेस्तरपरअभीव्यापककमीहै।पूर्वमेंभीयहीहालातथे।छात्र-छात्राओंकोअपनेजीवनकेबारेमेंस्वयंहीकदमउठानेहैं।इसकेलिएउन्होंनेलक्ष्यनिर्धारितकरनेकोकहा।एकलक्ष्यकोलेकरमेहनतऔरअनुशासनकोआवश्यकबताया।उन्होंनेकहाकिअनुशासनकेसाथहीकठोरपरिश्रमसेसबकुछहासिलकियाजासकताहै।

डसीलाप्रतिवर्षक्षेत्रकेविद्यालयोंमेंमेधावीऔरनिर्धनविद्यार्थियोंकेलिएकार्यक्रमआयोजितकरतेहैं।विभिन्नविद्यालयोंमेंपुस्तक,गणवेशवितरणकेअलावाछात्रवृत्तिदीजारहीहै।इसवर्षसेपुरातनछात्रोंद्वाराजीवविज्ञान,रसायनविज्ञानऔरभौतिकविज्ञानकेलिएमानदेयपरशिक्षकोंकीव्यवस्थाकीजारहीहै।तीनप्रमुखविषयोंकोअलगसेपढ़ानेकेलिएरखाजारहाहै।इसव्यवस्थाकोपुरातनछात्रडॉ.नंदनसिंहडसीला,कृपालकन्याल,महेशकन्यालआदिआगेआएहैं।मंगलवारकोआयोजितकार्यक्रममेंपीटीएअध्यक्षकुंडलकन्याल,किशोरसाह,ललितमोहनभंडारीआदिउपस्थितथे।

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप