चौथाई भी नहीं डॉक्टर, फार्मासिस्ट थाम रहे नब्ज

केसवन:सीएचसीपटियाली।चिकित्साधीक्षकडॉ.कुलदीपगंगवारसहितडॉ.अंजूऔरडॉ.वीरबहादुरकीतैनाती।आसपासगांवमेंबच्चाबीमारहोतोबालरोगविशेषज्ञतकनहीं।स्त्रीरोगविशेषज्ञनहोनेसेमहिलाएंप्राइवेटअस्पतालदौड़तीहैं।

केसटू:प्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रभरगैन।मात्रएकफार्मासिस्टकीतैनाती।कमसेकमदोडॉक्टरयहांहोनेचाहिए।मरीजआतेहैंतोफार्मासिस्टहीनब्जपकड़करजोसमझआताहैदवाईदेताहै।अधिकांशयहबंदरहताहै।

कासगंज,जेएनएन:बजटकेनामपरकरोड़ोंखर्च।बड़ी-बड़ीइमारतेंखड़ी।उद्घाटनकेवक्तपरनेताओंनेभीइलाजकेनामपरखूबवाह-वाहीबटोरीलेकिनआजतककोईइनमेंडॉक्टरतैनातनहींकरापाया।जिलेकेस्वास्थ्यकेंद्रोंकाहालबेहालहै।आठडॉक्टरकीतैनातीवालीसीएचसीदो-तीनकेभरोसेचलरहीहैतोपीएचसीछोड़रखीहैंफार्मासिस्टोंकेभरोसे।

पूरेजिलेकायहीहालहै।जिलेमें93डॉक्टर्सकीजरूरतहै,लेकिनमात्र19डॉक्टरतैनातहैं।स्वास्थ्यसेवाओंकेनामपरदावेकरनेवालेसत्ताधारीदलकेनेताभीचुप्पीसाधेहैंतोजनताइलाजकेलिएपरेशान।प्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रबढ़ौला,दरियावगंज,शाहपुरटहला,नगलाअमीरमेंसिर्फफॉर्मासिस्टकेभरोसेइलाजमिलरहाहै।जिलेमेंअगरसंविदापरकामकरनेवालेडॉक्टर्सदेखेंतो18कीतैनातीहै।इनमेंभीकईआयुर्वेदकेहैं।राष्ट्रीयबालस्वास्थ्यकार्यक्रमकेतहततैनातचिकित्सकोंसेकिसीतरहकामचलरहाहै।सिढ़पुरामेंब्लॉकस्तरीयपीेएचसीपरमात्रएकडॉक्टरअंजुशतैनातहैं।

गंजडुंडवारासीएचसीपरमात्रएकडॉक्टर:यहांपरमात्रएकचिकित्साधीक्षकडॉ.मुकेश¨सहयादवतैनातहैं।कोईअन्यचिकित्सकनहींहै।महिलाओंकोउपचारकेलिएप्राइवेटडॉक्टरकेपासजानापड़ताहै।बच्चोंकेडॉक्टरभीनहींहैं।जबकिसबसेज्यादाजोरबालएवंमहिलास्वास्थ्यपरहै।

सीएचसीपरहोनेचाहिएयेडॉक्टर

बालरोगविशेषज्ञ।

चर्मरोगविशेषज्ञ।

दंतरोगविशेषज्ञ।

स्त्रीरोगविशेषज्ञ।

जनरलफिजीशियन।

93डॉक्टरकीहैजरूरत।

19डॉक्टरहैंतैनातजिलेमें।

पांचसामुदायिकस्वास्थ्यकेंद्र।

दोप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रब्लॉकअमांपुरएवंसिढ़पुरामें।

29प्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्र।

'जिलेमेंचिकित्सकोंकीकमीहै।इसकेबादभीसीमितसंसाधनोंमेंबेहतरसेबेहतरउपचारजनताकोमुहैयाकरानेकेप्रयासकिएजारहेहैं।'

-डॉ.प्रतिमाश्रीवास्तव

मुख्यचिकित्साधिकारी