Bihar: कहां चली गई चिकित्‍सकों की मानवता, गरीब पीडि़त को बताया 'सामाजिक आपदा', खूब हो रहे ट्रोल

भागलपुर,ऑनलाइन डेस्‍क।बिहारकेभागलपुरमेंइसकोरोनाकालमेंभीचिकित्‍सकोंकीमानवताकहांचलीगई,यहआजचर्चाकाविषयबनाहुआहै।एकओरजहांसामान्‍यलोगकोरोनामेंसेवाकार्यकररहेहैं।वहीं,दूसरीओरचिकित्‍सकखुदइसआपदाकोकमाईकाजरियाबनालिएहैं।यहांतककिचंदशब्‍दभीबेहतरतरीकोंसेवेनहींबोलतेहैं।निजीनर्सिंगहोममेंतोसिर्फलूटहीलूटहोरहीहै।डॉक्‍टरोंकेइसकृत्‍यकोलोगशर्मसारकरनेवालीबातबतारहेहैं।लोगोंनेकहाकिडॉक्‍टरकोभगवानकादर्जादियाहै।लेकिनसमाजमेंऐसेभीकईडॉक्‍टरहैं,जिन्‍होंनेमानवताकोझकझोरकररखादियाहै।

आइए,आजहमबातकरतेहैंशहरकेतिलकामांझीइलाकेमेंएकचिकित्सककेक्लीनिकका।प्रसिद्धचिकित्‍सकहैं।शामहोचुकाहै,साढ़ेतीनबजगएथे।काफीमरीजोंकीभीड़थी।क्‍लीनिकमेंडॉक्‍टरकेकक्षकेबाहरकोनेमेंएकमहिलागुमसुमबैठीहै।वहकरीब24सालकीथी।उसकेतीनछोटे-छोटेवहींबैठाए‍क-दूसरेसेसटाहुआथा।तीनोंमांसेचिपकाहुआथा।

इसीदौरानएककंपाउंडरउससेकुछसख्‍तीसेपूछताहै।लेकिनमहिलासिरझुकाएहीरखतीहै।बैठीरहतीहै।महिलाबदहवासस्थितिमेंहै।जमीनपरनजरेंटिकाएबैठीहै।कंपाउंडरनेचैंबरमेंजाकरडॉक्टरसाहबकोइसकीसूचनादी।डॉक्टरसाहबचैंबरसेबाहरनिकले।डॉक्टरनेमहिलासेसख्‍तीसेपेशकिया।आतेहीगुस्‍सेमेंकईसवालपूछे।महिलाबिनाबोलेवहींबैठीथी।सिरझुकाहुआथा।कठोरऔरडांटडपटकरनेकेबादवहसिर्फइतनाहीबोलपाईकि उसकेपतिकीमौतहोगईहै।जगहकानामखरीकबतारहीथी।डॉक्टरसाहबनेफोननिकालाऔरमहिलाकीकईफोटोउतारीं।फ‍िरकिसीकोडॉक्‍टरसाहबनेतस्‍वीरभेजा।

डॉक्टरसाहबकाफीगुस्सेथे।कुछसेकुछबुदबुदारहेथे।इसकेबादउन्‍होंनेपुलिसकोफोनकिया।उन्होंनेफोनपरकहा,हैलोतिलकामांझीपुलिस,आपलोगतुरंतयहांआइए।यहांएक'सामाजिकआपदा'आगईहै।इससामाजिकआपदाकोमेरेक्‍लीनिकसेलेजाइए।कुछदेरबादएकपुलिसपदाधिकारीवहांपहुंचे।दोमहिलासिपाहीभीउनकेसाथथे।

पुलिसपदाधिकारीनेमहिलासेकाफीपूछताछकी।लेकिनवहकुछज्यादाबोलनहींरहीथी।बच्चेसुबहसेभूखेहैं।सभीबच्‍चेरोरहेथे।लेकिनडॉक्टरकीसंवेदनाजराभीनहींजगी।डॉक्टरने'सामाजिकआपदा'कहकरमानवताकोशर्मसारकरदिया,उन्‍होंनेमानवताकामजाकबनाया।वहांसेमहिलाकोउनकेबच्‍चोंकेसाथजल्दहटानेकोकहा।वहांमौजूदमरीजोंकेस्वजननेमहिलाकोकुछपैसेदिये।बच्‍चेकोखानाखिलानेकोकहा।इसकेबादपुलिसवालेउसेवहांसेसाथलेगए।बच्‍चोंकेसाथमहिलाकेजानेकेबादडॉक्टरसाहबनेराहतली।