बिहार विधानसभा चुनाव 2020 : तब महज 25 सौ रुपये खर्च कर विधायक बन गए थे भागवत बाबू

लखीसराय[सुमनकुमारसुमन]।वर्ष1967मेंसूर्यगढ़ाविधानसभाक्षेत्रसेसंयुक्तसोशलिस्टपार्टीकेउम्मीदवारभागवतप्रसादमेहताचुनावकेदौरानमात्रदोहजारपांचसौ(25सौ)रुपयेखर्चकरजीतहासिलकरलीथी।यहसुननेमेंभलेहीअटपटाआश्चर्यजनकप्रतीतहोताहैपरंतुयहसोलहआनेसचहै।चुनावखर्चकेनामपरभागवतप्रसादमेहतानेएकजीपकाकिरायाएवंउसकेईंधनतथाचारचुनावकार्यालयपरराशिखर्चकी।उक्तचुनावमेंसूर्यगढ़ाविधानसभाक्षेत्रसेजीतहासिलकरनेवालेभागवतप्रसादमेहताअपनेसमयकेचुनावीखर्चकोयादकरवर्तमानकोकोसनेलगतेहैं।

उन्होंनेबतायाकिमात्र25सौरुपयेखर्चकरवेचुनावजीतगएपरंतुवर्तमानसमयमेंउम्मीदवारचुनावमेंकरोड़ोंरुपयेखर्चकरतेहैं।उनकेसमयकेनेताजनसेवाएवंक्षेत्रकेविकासकासंकल्पलेकरचुनावलड़तेथेपरंतुवर्तमानसमयकेनेताधनोपार्जनकेउद्देश्यसेचुनावलड़तेहैं।यहीकारणहैकिचुनावमेंखर्चकीकोईसीमाहीनहींरहगईहै।उन्होंनेबतायाकिउससमयकीबातहैजबवेझारखंडकेचतराकॉलेजमेंपॉलिटिकलसाइंसकेप्रोफेसरथे।वर्ष1964मेंमुंगेरलोकसभाचुनावमेंउन्होंनेसंयुक्तसोशलिस्टपार्टीकेउम्मीदवारमधुलिमयेकेलिएकामकिया।इसीदौरानवेजमुईकेश्रीकृष्णङ्क्षसहकेसंपर्कमेंआए।वर्ष1967मेंश्रीकृष्णङ्क्षसहनेउन्हेंपटनाबुलाकरबतायाकिउन्हेंसूर्यगढ़ाविधानसभाक्षेत्रसेसंयुक्तसोशलिस्टपार्टीकाउम्मीदवारबनायागयाहै।यहसुनतेहीवेआश्चर्यचकितहोगए।उन्हेंकार्यालयसेहीपोस्टरएवंपंपलेटआदिमिलगया।नामांकनकरानेकेबादचुनावप्रचारकेलिएउन्होंनेकिराएपरएकजीपली।इसकेअलावापूरेविधानसभाक्षेत्रमेंचारचुनावकार्यालयखोला।उससमयदसरुपयेमेंएकगैलनपेट्रोलमिलताथातथादसरुपयेमनचावलमिलताथा।जीपकेपेट्रोलपरएवंचुनावकार्यालयमेंभोजनआदिमिलाकरकुल25सौरुपयेखर्चकरकेवेचुनावजीतगए।