बिहार के 800 छात्र यूक्रेन में फंसे, एयरलिफ्ट कराकर जान बचाने की लगा रहे गुहार

यूक्रेनपरयुद्धकाखतरामंडरारहाहै।ऐसेमेंवहांरहरहेभारतीयअसमंजसमेंहैंकिउनकेसाथक्याहोनेवालाहै?रिपोर्टकेमुताबिकइनमेंबिहारकेकरीब800छात्रभीशामिलहैं।यहसभीयूक्रेनमेंमेडिकलऔरइंजीनियरिंगकीपढ़ाईकरनेगएहुएहैं।यूक्रेनमेंरहरहेबिहारकेविभिन्नजिलोंकेरहनेवालेछात्रकाफीडरे-सहमेहैं।येबिहारकेमुख्यमंत्रीनीतीशकुमारऔरप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीसेगुहारलगारहेहैंकिउनकीजानकीरक्षाकीजाए।

एयरटिकटमिलनेमेंहोरहीपरेशानी

युक्रेनस्थितओडेसानेशनलमेडिकलयूनिवर्सिटीमेंपढ़ाईकररहेबिहारकेछात्रकाफीपरेशानहैं।येछात्रअबभारतलौटनाचाहरहेहैं।लेकिनइनकेसामनेएकपरेशानीयेहैकिवहांएयरटिकटमिलनेमेंकाफीदिक्कतहोरहीहै,जिसकेकारणउनकीचिंताबढ़तीजारहीहै।अबयेगुहारलगारहेहैंकिउनकीजानकीरक्षाएयरलिफ्टकराकरकरें,क्योंकियहांटिकटमहंगाहोगयाहै।

लगातारबढ़रहीचिंता

बिहारकेपूर्णियाकेरहनेवालेरागिबरहमानबतातेहैंकिमो.नसीम,शकिबखान,राकेश,सूरजयादव,आलोकयादवसहितकईछात्रयूक्रेनकेओडेसानेशनलमेडिकलयूनिवर्सिटीमेंMBBSकररहेहैं।येसभीसाथरहतेहैं।छात्रोंकाकहनाहैकि'वैसेशहरकेअंदरकिसीप्रकारकीदिक्कतनहींहै।परहालातनाजुकहोतेजारहेहैं।इससेइनकीचिंताबढ़तीजारहीहै।बिहारसरकारऔरभारतसरकारविशेषपहलकरयहांसेहमेंनिकाले।छात्रअपीलकररहेहैंकिसरकारचाहेतोहमेंएयरलिफ्टकरासकतीहै।'

उधर,रूसऔरयूक्रेनकेबीचयुद्धकाबिगुलकभीभीबजसकताहै।रूसनेअपनेएकलाखसेज्यादासैनिकसीमापरतैनातकररखाहै।सभीदेशोंनेअपनेनागरिकोंकोयूक्रेनछोड़नेकीएडवाइजरीजारीकीहै।इसबीचबिहारसहितदेशभरकेकरीब20हजारछात्रयूक्रेनमेंफंसगएहैं।इनमेंबिहारके1000से1200छात्रशामिलहैं।