Big Decision, सुप्रीम कोर्ट ने कहा-लड़कियां दे सकती हैं NDA का एग्जाम, एडमिशन पर फैसला बाद में होगा

सुप्रीमकोर्टनेबुधवारकोएकBigDecisionदियाहै।SCनेकहाहैकिलड़कियांNDAकेएग्जाममेंशामिलहोसकतीहैं।एडमिशनपरबादमेंफैसलाहोगा।

एनडीए(NationalDefenceAcademy)केजरियेसेनामेंजाकरअपनीसेवाएंदेनेकीइच्छुकलड़कियोंकेलिएसुप्रीमकोर्टनेखुशखबरीदीहै।अबलड़कियांNDAकेएग्जाममेंशामिलहोसकेंगी।बुधवारकोइससंबंधमेंसुप्रीमकोर्टनेअपनाफैसलासुनाया।हालांकिएडमिशनकोलेकरबादमेंफैसलाआएगा।

NDAमेंजाकरपढ़ाईकरनेकीइच्छुकलड़कियोंकेलिएसुप्रीमकोर्टकायहफैसलाऐतिहासिकहै।क्योंकिअभीतकलड़कियोंकोइसकेएग्जाममेंबैठनेतककीअनुमतिनहींथी।NDAकाएग्जाम5सितंबरकोहोनाहै।कोर्टनेकहाकिNDAमेंदाखिलेपरफैसलाबादमेंहोगा।इससंबंधमेंएडवोकेटकुशकालरानेएकयाचिकालगाईथी।इसमेंकहागयाकिलड़कियोंकोग्रेजुएशनकेबादहीसेनामेंआनेकीअनुमतिहोतीहै।इसकीन्यूनतमआयुभी21सालहै।जबकिलड़के12वींकेबादहीNDAकाएग्जामदेसकतेहैं।इससेशुरुआतसेहीलड़कियोंकेलड़कोंकीतुलनामेंबेहतरपोस्टपानेकीउम्मीदेंकमहोजातीहैं।यहसमानताकेअधिकारकाहननहै।कोर्टनेइससंबंधमेंकेंद्रसरकारसेउसकाजवाबमांगाथा।इसमामलेकीसुनवाईजस्टिससंजयकिशनकौलऔरहृषिकेशरॉयकीखंडपीठनेकी।

याचिकाकर्तानेसुप्रीमकोर्टमेंपिछलेसालआएमहिलाअधिकारियोंकेलिएस्थायीकमिशनदेनेकेफैसलेकातर्कदिया।बतादेंकिसुप्रीमकोर्टनेमहिलासैन्यअधिकारियोंकोपुरुषोंकेबराबरस्थायीकमिशनदेनेकाअधिकारदियाथा।

NDAएकराष्ट्रीयस्तरकीपरीक्षाहै।यहआर्मी,नेवीऔरएयरफोर्समेंएडमिशनलेनेकेलिएहोतीहै। यहएग्जामहरसाल 2बारहोताहै।एग्जाम2फेज-लिखितऔरएसएसबीइंटरव्यूकेजरियेहोताहै।हरसालकरीब4लाखलड़केएनडीएकेलिएबैठतेहैं।इनमेंसेकरीब6000कोएसएसबीइंटरव्यूकेलिएबुलायाजाताहै।अबलड़कियोंकोअनुमतिमिलनेसेयहसंख्याऔरबढ़जाएगी।यहएकऐतिहासिकफैसलाहै।

सेनामेंमहिलाअधिकारियोंकीभर्तीसबसेपहले1992मेंहुईथी।तबउन्हेंसिर्फशॉर्टसर्विसकमिशनकेअंतर्गतकुछगिनी-चुनीब्रांचमेंहीकार्यकरनेकेलिएरखाजाताथा।यानीवेसिर्फलेफ्टिनेंटकर्नलकीपोस्टतकहीपहुंचसकतीथीं।लेकिनसुप्रीमकोर्टकेफैसलेकेबादअबमहिलाएंस्थायीकमिशनकीहकदारहैं।

शॉर्टसर्विसकमीशनमेंमहिलाएं14सालतकसर्विसकेबादरिटायरहोजातीहैं।लेकिनउन्हेंस्थाईकमीशनमिलनेकेबादमहिलाअफसरआगेभीअपनीसर्विसजारीरखसकेंगीऔररैंककेमुताबिकहीउन्हेंरिटायरमेंटमिलेगा।इसकेअलावासेनाकीसभी10स्ट्रीम-आर्मीएयरडिफेंस,सिग्नल,इंजीनियर,आर्मीएविएशन,इलेक्ट्रॉनिक्सएंडमैकेनिकलइंजीनियर,आर्मीसर्विसकॉर्प,इंटेलीजेंस,जज,एडवोकेटजनरलऔरएजुकेशनलकॉर्पमेंमहिलाओंकोपरमानेंटकमीशनमिलपाएगा।