भीड़ प्रबंधन को ध्यान में रखकर बनें योजनाएं

संवादसहयोगी,¨चतपूर्णी:चिंतपूर्णीमेंलगनेवालेमेलोंकीवजहसेस्थानीयजनताकोभीपरेशानीकासामनाकरनापड़ताहै।आलमयहहैकिवर्षोबादभीस्थानीयलोगोंकेदर्दकोप्रशासनसमझनेमेंविफलरहाहै।इसीकेचलतेमेलेकेदिनोंमेंलोगप्रशासनकोकोसतेहैं।ऐसीहालतरविवारऔरसंक्रांतिवालेदिनोंमेंदेखनेकोमिलरहीहै।वहीं,स्थानीयजनताने¨चतपूर्णीमेंबननेवालीयोजनाओंकोमेलोंमेंउमड़नेवालीभीड़कोध्यानमेंरखकरबनाएजानेकीवकालतकीहै।

नवरात्रमेलेसेपहलेस्थानीयलोगोंकीमुसीबतबढ़जातीहैक्योंकिभीड़केचलतेवेमुख्यबाजारसेआजानहींपातेहैं।तमामबाईपासमार्गोपरखड़ेबेतरतीबवाहनोंसेहमेशाट्रैफिकजामकीस्थितिबनतीहै।रूटकीबसेंलेटहोनेसेआसपासकेदसगांवोंकीजनताभीप्रभावितहोतीहै।मेलेमेंधार्मिकसंस्थाओंकेप्रबंधकोंद्वाराफैलाईगईगंदगीसेक्षेत्रकीचारपंचायतोंनारी,छपरोह,गंगोटऔरसमनोलीमेंहालातबेहदबिगड़जातेहैं।

स्थानीयअस्पतालतकमरीजकोपहुंचानाभीकिसीजंगजीतनेजैसाहोताहैक्योंकिअस्पतालकीभौगोलिकस्थितिहीऐसीहैकिवहांपरमेलेमेंभीड़केचलतेआसानीसेनहींपहुंचाजासकता।मंदिरन्यासवजिलाप्रशासनसुविधादेनेकेलाखदावेकरले,लेकिनधरातलकासचयहीहैकिभीड़प्रबंधनकीकमीसेमेलेकेदौरानकईस्थानीयदुकानदारोंकोअपनीदुकानोंपरतालेजड़नेपड़तेहैं।विडम्बनायहभीहैकिमेलेकेदौरानलगेअस्थायीपुलिसबैरियरोंपरस्थानीयलोगोंकेवाहनोंकोआगेजानेसेरोकनेकेलिएकईपुलिसकर्मीकथिततौरपरदु‌र्व्यवहारतककरतेहैं।क्षेत्रकीछहपंचायतोंकारास्ता¨चतपूर्णीबाजारसेहोकरजाताहै,लेकिनमेलेकेदिनोंमेंउन्हेंअतिरिक्तसफरतयकरनापड़ताहै।उधर,इसबारेमेंमंदिरन्यासकेएसडीओआरकेजसवालकाकहनाथाकिमेलेकेदिनोंमेंस्थानीयजनताकीसुविधाकेलिएवाहनोंकेपरमिटबनाएजातेहैं।मानाकिअस्पतालरोडपरभीड़कीवजहसेमरीजअस्पतालमेंनहींपहुंचपातेहैं,परन्यासअपनीतरफसेव्यवस्थाकोबनानेकेलिएहरसंभवप्रयासकरताहै।