भारत की मदद को आगे आए अमेरिका में रह रहे एनआरआइ, भेजेंगे एक हजार आक्सीजन कंसंट्रेटर और बाइपेप मशीनें

गजेंद्रविश्वकर्मा,इंदौर। अमेरिकामेंरहरहेभारतीयोंनेकोरोनामहामारीमेंभारतकीमददकेलिएनिजीतौरपरहाथबढ़ायाहै।अमेरिकाके12से15एनजीओमिलकरभारतकोमेडिकलउपकरणपहुंचारहेहैं।हालहीमें150आक्सीजनकंसंट्रेटरभारतपहुंचचुकेहैंऔरअगलेसप्ताहतकएकहजारआक्सीजनकंसंट्रेटर,बाइपेपमशीनें,पीपीईकिट,सर्जिकलमास्कऔरअन्यमेडिकलउपकरणभारतपहुंचेंगे।इनउपकरणोंकोसरकारीअस्पतालोंऔरएनजीओकोवितरितकियाजाएगा।

अमेरिकासेभारतमेंसामग्रीपहुंचानेमेंमददकररहेहैंमध्यप्रदेशकेइंदौरमेंजन्मेऔरदुनियाभरमेंलाजिस्टिककाकामकरनेवालीअमेरिकीकंपनीफेडेक्सएक्सप्रेसकेवाइसप्रेसीडेंटराकेशशालिया।राकेशकाकहनाहैकिअमेरिकाकेविभिन्नशहरोंसेइससमयफंडएकत्रितकियाजारहाहैऔरइससेमेडिकलउपकरणखरीदेजारहेहैं।इनउपकरणोंकोभारतमेंकिसतरहपहुंचायाजाए,यहचुनौतीभराकामहै।हमारीकंपनीकेपास700निजीएयरक्राफ्टहैं।सामग्रीपहुंचानेमेंइनकीमददलीजारहीहै।भारतसरकारकेअधिकारियोंसेभीइसबारेमेंबातचलरहीहै।हमारेनिवेदनपरभारतसरकारनेअमेरिकासेआनेवालेमेडिकलउपकरणोंकेलिएकस्टमप्रक्रियाकोआसानबनादियाहैऔरउपकरणोंकेलिएजीएसटीमेंभीछूटदीगईहै।एकसप्ताहमेंहमयहांसेएयरक्राफ्टपहुंचारहेहैं।इनमेंएकहजारआक्सीजनकंसंट्रेटर,बाइपेपमशीनें,पीपीईकिट,सर्जिकलमास्क,ग्लब्सऔरअन्यउपकरणहोंगे।सामग्रीकोदिल्लीएयरपोर्टपरउताराजाएगा।यहांसेदिल्ली,लखनऊ,कानपुर,अहमदाबाद,कोलकाता,इंदौरऔरभोपालतकमेडिकलउपकरणपहुंचाएजाएंगे।

परिवारकेसदस्योंकेलिएभीभेजरहेउपकरण

राकेशकाकहनाहैकिभारतसरकारकीओरसेहमेंएकपत्रप्राप्तहुआहै।इसमेंछूटदीगईहैकिअमेरिकामेंरहरहेएनआरआइअपनेपरिवारकेसदस्योंकोव्यक्तिगतउपहारकेतौरपरमेडिकलउपकरणपहुंचासकतेहैं।कस्टमकीआसानप्रक्रियाऔरजीएसटीमेंछूटमिलनेसेएनआरआइकेउपहारभीहमभारतीयोंतकपहुंचानेकाकामकररहेहैं।

कौनहैंराकेशशालियाराकेशशालिया

इंदौरमेंजन्मेऔरपिछले20वर्षसेअमेरिकामेंरहरहेहैं।इंदौरकेगोविंदरामसेकसरियाप्रौद्योगिकीएवंविज्ञानसंस्थानसेमैकेनिकलइंजीनियरिंगकरनेकेबादउन्होंनेआइआइटीदिल्लीसेएमटेकऔरपीएचडीकी।राकेशकाकहनाहैकिइंदौरसेमेराकाफीलगावरहाहै।शहरमेंपरिवारकेसदस्यऔरकईदोस्तरहतेहैं।इंदौरकेअस्पतालोंसेभीहमजरूरीमेडिकलउपकरणोंकीजरूरतजानरहेहैं।शहरकेलिएभीकुछहीसप्ताहमेंउपकरणपहुंचाएजाएंगे।उन्होंनेबतायाकिमैंएकबड़ीशि¨पगकंपनीकेसाथजुड़ाहूं।इसकाफायदाअमेरिकासेभारतमेंआसानीसेसामग्रीपहुंचानेमेंमिलरहाहै।