भारद्वाज व ऋषि वाल्मीकि मिलन लीला का किया मंचन

हरदोई:श्रीरामलीलामेलावप्रदर्शनीकमेटीकेतत्वावधानमेंश्रीरामलीलामैदानमेंचलरहीरामलीलामंचनमेंमंगलवारकोभारद्वाजमिलन,वाल्मीकिमिलनवचित्रकूटनिवासलीलाकामंचनकियागया।

मंचनमेंदिखायागयाकिसबसेपहलेश्रीरामनिषादराजसेमिलतेहैं।निषादकेद्वाराभगवानकाबहुतस्वागतकियाजाताहै।उसकेबादरामजीगंगानदीपरपहुंचतेहैं।वहांपरकेवटसेमिलनहोताहै।केवटकेद्वाराभगवानकापूजनहोताहै।केवटकेपरिवारद्वाराभगवानकास्वागतहोताहै।केवटभगवानकेचरणधोताहैउसकेबादरामजीसुमंतकोअयोध्याकेलिएवापसकरतेहैं।सुमंतअयोध्याकेलिएवापसचलदेतेहैं।उधरभगवानरामजीनावमेंबैठकरगंगापारहोजातेहैं।फिररामजीआगेकेलिएप्रस्थानकरतेहैं।आगेवनमेंभरद्वाजजीसेमिलनहोताहै।निषादकोविदाकरतेहैं।भरद्वाजजीसेमिलनेकेबादभगवानरामजीकावाल्मीकिऋषिसेमिलनहोताहै।वाल्मीकिजीनेश्रीराम,लक्ष्मण,सीताकाबहुतस्वागतकिया।वाल्मीकिजीप्रभुरामसेचित्रकूटपररहनेकेलिएकहतेहैं।लीलाकासंचालनविष्णुकुमारदत्तात्रेयनेकिया।इसमौकेपररामप्रकाशशुक्ला,वियोगचंद्रमिश्रा,प्रेमशंकरद्विवेदीमौजूदरहे।