बेसहारा गोवंशों की भरमार, हाईवे पर भी डेरा

शामली,जागरणटीम।शहरसेलेकरगांवतकबेसहारागोवंशोंकीभरमारहै।किसानभीकाफीपरेशानहैंऔरहाईवेपरभीगोवंशोंकाडेराहै।ऐसेमेंदुर्घटनाभीखतराबनाहुआहै।तमामसंगठनप्रशासनसेगुहारलगाचुकेहैं,लेकिनकोईप्रभावीकदमनहींउठाएगएहैं।

पिछलेकरीबचारसालसेबेसहारागोवंशकीसमस्याबनीहुईहै।जनवरी2019मेंसरकारकेनिर्देशगोवंशोंकोसंरक्षितकरनेकाअभियानशुरूहुआथा।अस्थाईगोश्रयस्थलभीबनाएगएथे।शुरूमेंतोअभियानठीकतरहसेचला,लेकिनफिरवहीस्थितिहोगई।ग्रामीणक्षेत्रमेंगोवंशफसलोंकोकाफीनुकसानपहुंचारहेहैं।किसानयूनियनकेराष्ट्रीयअध्यक्षसवितमलिकनेबतायाकियहसमस्याहमारेप्रमुखमु्द्दोंमेंशामिलहै।किसानफसलमेंबादमेंकाटताहै,लेकिनगोवंशपहलेहीनुकसानपहुंचादेतेहैं।किसानपहराभीदेतेहैं,लेकिनकोईफायदानहींहोताहै।सिभालकागांवनिवासीनीरजकालखंडेनेबतायाकिमेरठ-करनालहाईवेपरभीबड़ीसंख्यामेंगोवंशरहतेहैं।कईंलोगगोवंशकीचपेटमेंआकरघायलभीहोचुकेहैं,लेकिनकोईसुधनहींलेरहाहै।धानकीफसलकोभीकाफीनष्टकरचुकेहैं।शामलीशहरकेधर्मपुरानिवासीनिशीकांतसंगलनेबतायाकिशहरमेंगली-मोहल्लोंतकगोवंशपहुंचरहेहैं।घरकेबाहरखड़ीबाइक-स्कूटीकोगिरादेतेहैं।बच्चोंकोअकेलेबाहरभेजनेमेंडरलगताहै।नगरपालिकानेकैटलकैचरवाहनखरीदाथा,लेकिनशायदहीकोईगोवंशउससेपकड़करसंरक्षितकियाहो।सभासदपंकजगुप्तानेबतायाकिकईबारनगरपालिकामेंशिकायतभीकीजाचुकीहै।

मुख्यपशुचिकित्साअधिकारीडा.यशवंतनेबतायाकि19गोआश्रयस्थलचलरहेहैं,जिनमेंकरीबसाढ़ेतीनहजारगोवंशसंरक्षितहैं।लगातारहीगोवंशोंकोसंरक्षितकरनेकाकार्यचलतारहताहै।पहले30सेअधिकआश्रयस्थलथे।कईआश्रयस्थलमेंगोवंशकीसंख्याकमहुईतोउन्हेंदूसरेआश्रयस्थलोंमेंसंरक्षितकरदियागया।