बेंगलुरु: हर दिन गुम हो रहे हैं 200 मोबाइल, तीन साल में 200 से 240 करोड़ रुपये की चपत

राजीवकालकोड,बेंगलुरुबेंगलुरुमेंहररोजलगभग200मोबाइलफोनगुमहोजातेहैं।इसतरहखोनेवालेसमानोंकीसूचीमेंमोबाइलफोनटॉपपरहैं।बेंगलुरुकेक्राइमरिकॉर्डब्‍यूरोकेआंकड़ेबतातेहैंकिशहरमेंपिछलेतीनवर्षोंमें2.43लाखमोबाइलफोनयातोचोरीहोगएयाखोगए।येआंकड़ेउनशिकायतोंसेजुटाएगएहैंजोफोनमालिकोंनेई-लॉस्‍टनामकेमोबाइलफोनऐप्लिकेशनपरदर्जकराईगईथीं।इसमोबाइलऐप्लिकेशनकासंचालनबेंगलुरुपुलिसकरतीहै।VIDEO:मोबाइलचोरीकरतेहुएशख्सकैमरेमेंकैद,RPFनेकियाअरेस्टएकपुलिसअफसरनेबताया,'इसमेंउनमोबाइलफोनकाजिक्रनहींहैजोलोगोंसेछीनलिएगए।इसकेअलावाबहुतसेलोगोंनेमोबाइलखोनेकीरिपोर्टभीनहींलिखाईहोगी।अगरइनदोनोंतरहकीघटनाओंकोभीइसमेंशामिलकरदियाजाएतोयहआंकड़ाकहींज्‍यादाहोगा।'लगभग200से240करोड़कानुकसानअगरइनआंकड़ोंकोआर्थिकदृष्टिसेदेखाजाएतोऔरभीहैरानीहोगी।एकप्राइवेटफर्मनेएकमार्केटसर्वेकियाथा।इसकेअनुसारभारतमेंस्‍मार्टफोनपरऔसतन10,000रुपयेखर्चकिएजातेहैं(स्‍मार्टफोनकीशुरुआतलगभग5हजाररुपयेसेहोतीहै)।इसहिसाबसेजनवरी2016सेमई2019केबीचखोएयाचोरीहुएमोबाइलफोनकीकीमत200से240करोड़रुपयोंकेआसपासहोगी।सबसेज्‍यादाफोनपब्लिकट्रांसपोर्टजैसेबसऔरऑटोरिक्‍शा,कैफेऔररेस्‍तरां,शॉपिंगमॉलऔरदूसरेभीड़भरेइलाकोंमेंगुमहुए।हालहीकेसमयमेंफोनछिननेकीघटनाएंभीबहुतबढ़गईहैं।बेंगलुरुकेपुलिसकमिश्‍नर,टीसुनीलकुमारनेफोनचारोंकोकड़ीचेतावनीदीहै।उनकाकहनाहै,'फोनचारोंपरलागातारछापेपड़रहेहैं।बार-बारफोनचुरानेवालोंपरगुंडाएक्‍टकेतहतकेसचलेगा।'अंग्रेजीमेंखबरपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें