बच्चों व मजलूमों को समर्पित किया जीवन

आयुषजैन,महमूदाबाद(सीतापुर):गमोंकीआंचपेआंसूउबालकरदेखो,बनेंगेरंगकिसीपेडालकरदेखो,तुम्हारेदिलकीचुभनभीजरूरकमहोगी,किसीकेपांवकाकांटानिकालकरदेखो।शायरडॉ.कुंवरबेचैनकीइनपंक्तियोंकोपंकजजैननेअपनेजीनेकामकसदबनालियाहै।बेटेकीमौतसेटूटेपंकजजैननेबच्चोंवमजलूमोंकीसेवामेंजीवनसमर्पितकरदिया।गरीबोंकोफ्रीदवाईयांदेनाहोअथवाबाढ़पीड़ितोंकोइमदाददेकरउनकीमददकरनाइनकेजीवनकाहिस्साबनचुकाहै।

सरावगीटोलानिवासीपंकजकेआंगनमेंवर्ष2004मेंउसवक्तखुशियांहिलोरेमारनेलगींजबबेटेप्रभावजैननेजन्मलिया।हंसी-खुशीकेदसबरसकबबीतगएपताहीनहींचला।वर्ष2012मेंप्रभावकानिधनहुआतोपंकजटूटगए।बेटेकोखोनेकेबादउन्होंनेबच्चोंऔरगरीबोंकीमददकाबीड़ाउठालिया।इसीसालपंकजनेस्व.प्रभावजैनमानवसेवासमितिकीस्थापनाकीऔरसमाजसेवाकेसफरपरनिकलपड़े।बेटेकेजन्मदिनऔरपुण्यतिथिपरनिश्शुल्कचिकित्साशिविरऔररक्तदानशिविरआयोजितकरतेआएहैं।महमूदाबादहीनहींतंबौर,लहरपुर,थानगांवमेंभीकईशिविरलगाकरबच्चोंवमजलूमोंकीमददकीहै।गरीबछात्राकीपढ़ाईमेंआरहीबाधाकीजानकारीमिलीतोउन्होंनेफीसदेकरउसकीशिक्षाशुरूकराई।दीपावलीपरगरीबबस्तियोंमेंजाकरदीपकऔरमिठाईकावितरणभीकरचुकेहैं।तहसीलक्षेत्रकेमेधावियोंकोसम्मानितकरनेकेसाथहीपौधरोपणअभियानचलाकरहजारोंपौधेभीरोपचुकेहैं।हरसालगांजरमेंआनेवालीबाढ़वअग्निकांडकेपीड़ितोंऔरजरूरतमंदोंकोवस्त्रवखाद्यसामग्रीभीमुहैयाकरातेहैं।मांकमलादेवीजैननेमरणोपरांतनेत्रदानकियातोइन्होंनेभीनेत्रदानकरनेकीघोषणाकररखीहै।भारतीयसेनाकामनोबलबढ़ानेकेलिएपंकजजैननेदोबारसैनिककल्याणकोषमेंधनराशिभीजमाकराचुकेहैं।