बच्चों के भविष्य की खातिर निजी खर्च पर रखा गणित का शिक्षक

जागरणसंवाददाता,बागेश्वर:जिलेकेकईविद्यालयजहांएकतरफशिक्षकोंकीकमीसेपरेशानहैं।वहींदूसरीओरराजकीयउत्तरमाध्यमिकविद्यालयउत्तरौड़ामेंप्रधानाचार्यनेएकअच्छीपहलकरतेहुएनिजीखर्चपरगणितकेशिक्षककोरखाहै।ताकिछात्रोंकीपढ़ाईप्रभावितनहोसके।

राजकीयउत्तरमाध्यमिकविद्यालयउत्तरौड़ाकक्षाछहसे10तकसंचालितहै।इसमेंवर्तमानसमयमेंकुल70छात्र-छात्राएंअध्ययनरतहैं।विद्यालयमेंगणितकेलिएअतिथिशिक्षककीनियुक्तिकीगईथी।जिसकीसमयसीमासमाप्तहोनेकेबादबीते31मार्चकोविद्यालयछोड़नाथा।सरकारीतौरपरहरीझंडीनहींमिलनेपरविद्यालयमेंगणितकीपढ़ाईप्रभावितहोरहीथी।इसकेबादप्रधानाचार्यदरबान¨सहकपकोटीनेपांचहजाररुपयेप्रतिमाहकेमानदेयपरउन्हेंविद्यालयमेंरोकरखाहै।जोकिसभीकक्षाओंमेंगणितपढ़ारहेहैं।

विद्यालयमेंलगाएकंप्यूटरप्रोजेक्टर

प्रधानाचार्यकेकहनेपरसभीशिक्षकोंवग्रामीणोंकीमददसेपाठ्यपुस्तकेंवकापियांछात्र-छात्राओंकोवितरितकीजारहीहैं।विद्यालयकीशिक्षिकाममतापंतनेबतायाकिस्थानीयलोगोंकीसहायतासेकक्षसंचालनकेलिएविद्यालयमेंकंप्यूटरप्रोजेक्टरलगाएगएहैं।जिसकेबादसेग्रामीणोंकाविद्यालयकेप्रतिविश्वासबढ़ाहै।

बच्चोंकीबेहतरीकेलिएविद्यालयपरिवारप्रयासकररहाहै।इसकेलिएहरस्तरपरकमियोंकोदूरकरनेकेलिएमिलकरप्रयासकियाजारहाहै।जिसमेंस्थानीयलोगोंवशिक्षाविभागकेअधिकारियोंकासहयोगमिलरहाहै।

-दरबान¨सहकपकोटी,प्रधानाचार्य,राउमावि.उत्तरौड़ा,बागेश्वर