बाबरी विध्वंस मामला : कल आएगा CBI कोर्ट का फैसला, केंद्र ने कई राज्यों में जारी किया अलर्ट

लखनऊ।सीबीआईकीविशेषअदालतबाबरीमस्जिदविध्वंसमामलेमेंबहुप्रतिक्षितफैसलाबुधवारकोसुनायेगी।इसेदेखतेहुएकेंद्रसरकारनेराज्योंकोविशेषसुरक्षाइंतजामकरनेकेआदेशदिए।केंद्रसरकारनेफैसलोंकेबादसंवेदनशीलऔरअतिसंवेदनशीलजिलोंमेंकिसीभीतरहकेसांप्रदायिकहिंसाकोरोकनेकेलिएराज्योंकोसतर्करहनेकेआदेशदिएहैं।इसमामलेमेंभाजपाकेवरिष्ठनेतालालकृष्णआडवाणी,मुरलीमनोहरजोशीसहित32आरोपितहैं।

केंद्रसरकारनेकहाकिफैसलेकाकानूनऔरव्यवस्थाकीस्थितिपरप्रभावपड़सकताहै,क्योंकिदोनोंपक्षोंकेअराजकतत्वफैसलेकोसांप्रदायिकरूपदेसकतेहैं।केंद्रकीओरसेजारीअलर्टमेंकहागयाहैकि,कईमुस्लिमसंगठनजोरामजन्मभूमि-बाबरीमस्जिदमुकदमेपरसुप्रीमकोर्टकेफैसलेसेनाखुशथे।वेउम्मीदकररहेहैंकिविध्वंसमामलेमेंअभियुक्तोंकोदोषीठहराएजानेसेउन्हेंन्यायमिलसकताहै।अगरउनकीउम्मीदकेमुताबिकफैसलानहींआताहैतोवेविरोधकासहारालेसकतेहैं।

अलर्टनेदावाकियाकिकुछकट्टरपंथीसमूहदेशमेंएंटी-सीएए/एनआरसी/एनपीआरआंदोलनकोपुनर्जीवितकरनेकेअवसरकीतलाशमेंहैं।वहींहिंदूसंगठनोंकोउम्मीदहैकिविध्वंसमामलेमेंआरोपीबरीहोजाएंगे।केंद्रनेकहाकिसांप्रदायिकमामलेकेकारणकुछराज्योंमेंस्थितितनावपूर्णहोसकतीहै।राज्यसरकारोंकोसंवेदनशीलजिलोंमेंसुरक्षाकड़ीकरनेऔरसोशलमीडियामेंभड़काउसामग्रीपरकड़ीनजररखनेकीसलाहदीगईहै।

अयोध्यामेंबाबरीविध्वंसकेकरीब28सालपुरानेमामलेमेंसीबीआईकीविशेषअदालतबुधवारकोऐतिहासिकफैसलासुनायेगी।वर्ष1992मेंविवादितढांचेकेविध्वंसकेमामलेमेंभारतीयजनतापार्टी(भाजपा)केवरिष्ठनेतालालकृष्णआडवाणी,डॉ.मुरलीमनोहरजोशी,कल्याणसिंह,उमाभारती,साध्वीऋतंबरा,विनयकटियार,रामविलासवेंदातीकेअलावाश्रीरामजन्मभूमितीर्थक्षेत्रट्रस्टकेअध्यक्षनृत्यगोपालदाससमेतसभी32आरोपियोंकेबयान31अगस्ततकदर्जकियेजाचुकेहैं।उमाभारतीऔरकल्याणसिंहकोरोनासंक्रमणकीचपेटमेंआकरदोअलग-अलगअस्पतालोंमेंभर्तीहैं।अभीयहसूचनानहींहैकिफैसलेकेसमयवेअदालतमेंमौजूदरहेंगेयानहीं।

रिलांयसकोटक्करदेनेकेलिएटाटामिलाएगावॉलमार्टसेहाथ,सुपरऐपमें25अरबडॉलरकानिवेश