अयोध्या में डीएम ने बोर्ड क्या बदला, लखनऊ में अखिलेश से मिलने के लिए अफसरों की कतार लग रही

यूपीविधानसभाचुनावआखिरीछोरतकपहुंचचुकाहै।सिर्फएकचरणकीवोटिंगबचीहै।सरकारकिसकीबनरहीहै?इसकातोअभीइंतजारहै,लेकिननौकरशाहीमेंहलचलमचचुकीहै।ताजाउदाहरणअयोध्याकेडीएमआवासकेबोर्डकेबदलतेरंगोंसेहीलेसकतेहैं।रामनगरीसेचलीबयारसेलखनऊअछूताकैसेरहसकताहै।

बड़ेब्यूरोक्रेट्सअखिलेशसेमुलाकातकीकोशिशेंकररहेहैं।कुछपुरानेरिश्तेयाददिलानाचाहतेहैं,तोकोईनएरिश्तेकीनींवरखनाचाहताहै।येदृश्यइसलिएभीदिखनेलगेहैंक्योंकियेब्यूरोक्रेट्ससियासतकेमौसमकोबखूबीसमझतेहैं।

रोचकतथ्ययेहैकिकलतकजोसीएमयोगीकेसबसेकरीबीअधिकारियोंमेंशामिलथे।वहअबअखिलेशयादवसेएकमुलाकातकरकेलिएजुगतभिड़ारहेहैं।कोईसीधेफोनकरकेबातकररहाहै।कोईसहयोगीकेजरिएअखिलेशतकपहुंचनाचाहताहै।

ब्यूरोक्रेट्स,इतनीपरेशानतबउठारहेंहैं।जबयूपीकीसत्तापरकौनबैठरहाहै,यहीतयनहींहै।सपासूत्रोंकादावाहैकिपुलिसऔरप्रशासनकेकईबड़ेअफसरअबतकमुलाकातकरभीचुकेहैं।

अबआपकोबतातेहैंकिअखिलेशसेमिलनेवालोंकीकतारमेंआखिरकौन-कौनहै...?

सपाकेबड़ेनेताकादावाहैकियोगीसरकारमेंकईमहत्वपूर्णविभागोंकीजिम्मेदारीसंभालनेवालेएकसीनियरआईएएसअफसरअखिलेशसेबातकरनेकीकोशिशकररहेहैं।येभीअंदरखानेचलरहाहैकिअखिलेशफिलहालउनसेमिलनानहींचाहतेहैं।

दूसरीतरफसपानेताओंकादावाहैकिपुलिसमहकमेकेभीकईअफसरोंसेअखिलेशकीमुलाकातहोचुकीहै।कुछखासइश्यूपरउनकीचर्चाएंहुईंहैं।इसकेसाथहीअखिलेशसरकारमेंबड़ीजिम्मेदारीसंभालनेवालीमहिलाआईएएसभीसपासुप्रीमोकेसंपर्कमेंहैं।

अबजोचर्चाएंचलरहीहैं,उसकेमुताबिकअखिलेशसरकारमेंपंचमतलपररहनेवालेअधिकारियोंकोलगताहैकिवोदोबारासीएमबनसकतेहैं।इसलिएअभीसेअपनीकुर्सीपक्कीकरलेनाचाहतेहैं।

पूर्वमुख्यसचिवआलोकरंजनसेलगारहेंहैंसिफारिश

खबरयेभीहैकिकुछअधिकारीअखिलेशसरकारमेंमुख्यसचिवरहेसीनियरआईएएसआलोकरंजनकेजरिएअखिलेशखेमेमेंअपनीपैठबनानेकीकोशिशमेंलगेहैं।आलोकरंजनफिलहालअखिलेशयादवकेबेहदकरीबीहैंऔरमानाजारहाहैकिअगरसपाकीसरकारबनतीहै,तोउन्हेंमहत्वपूर्णजिम्मेदारीदीजाएगी।

डीएमआवासकेबोर्डके'बदलतेरंग'कीकहानी

अयोध्याकेडीएमआवासकेबोर्डकारंगबुधवारकोबदलदियागया।पहलेभगवाथा,जिसेबादमेंहराकियागया।इसकोलेकरतरह-तरहकीचर्चाएंशुरूहोगईं।इनचर्चाओंमेंलोगोंनेसवालखड़ाकरनाशुरूकरदियाहैकिक्याउत्तरप्रदेशमेंएकबारफिरसत्तापरिवर्तनहोनेजारहाहै?यूपीमेंभगवासेभाजपातोहरारंगकोसपासेजोड़ाजाताहै।हालांकि,गुरुवारकोएकबारफिरडीएमकेबोर्डकारंगहरासेलालकरदियागयाहै।

यूपीमेंरंगोंकीराजनीति

सियासतमेंरंगोंकाअपनाअलगहीमहत्वहोताहै।2017मेंउत्तर-प्रदेशमेंसत्तापरिवर्तनकेसाथहीरंगबदलनेलगे।सरकारीबिल्डिंगसेलेकरमंत्रियोंकेआवासकारंगभीबदला।रंगोंमेंबदलावकुर्सियोंऔरउनपरसजनेवालेतौलियातकमेंदिखाईदिया।

सड़कसेलेकरचौक-चौराहोंपरलगेबोर्डतकसबकुछजैसेभगवामयहोगया।यूपीमेंयोगीसरकारबननेकेबादDMआवासकेबोर्डकारंगभगवाकियागयाथा।अयोध्याऔरवाराणसीमेंकईसारेभवनोंकोभगवारंगदियागया।लेकिनचुनावकेआखिरीपड़ावमेंडीएमकेबोर्डकेबदलतेरंगनेसियासीसरगर्मीबढ़ादीहै।लोगोंकातोयहांतककहनाहैकिकईअधिकारीभीसियासतकेमौसमवैज्ञानिकहोतेहैं।