अवैध इंप्लांट प्रकरण में पूर्व न्यायधीश के समक्ष तीन के बयान दर्ज

जागरणसंवाददाता,रोहतक:पीजीआइमेंअवैधइंप्लांटप्रकरणमेंपूर्वन्यायधीशआरपीभसीनकेसमक्षजांचमेंशामिलकर्मचारियोंवचिकित्सकोंकेबयानदर्जहुए।पूर्वसुरक्षाअधिकारीनेअपनेबयानमेंदोचिकित्सकोंकेनामलिएहैं।इसकेअलावादोअन्यकेबयानदर्जहुए।करीबतीनसालपहलेपकड़ेगएअवैधइंप्लांटकामामलाहाईकोर्टमेंभीलंबितहैं।जिसमें19जनवरीकोसुनवाईहोनीहै।पूर्वन्यायधीशइसमामलेमेंजांचकररहेहैं।

पूर्वसुरक्षाअधिकारीकेअलावाएकक्लर्कवचिकित्सककेबयानभीहुएहैं।पूर्वसुरक्षाअधिकारीकेदोचिकित्सकोंकेनामलेनेपरसीधे-सीधेइसप्रकरणमेंफंसरहेहैं।एकचिकित्सकआर्थाेस्कोपीकेसामानकीवजहसेफंसरहेहैंतोदूसरेपीजीआइकेपूर्वनिदेशकहैं।पूर्वन्यायधीशइसमामलेमेंतीनजनवरीकोअगलीजांचकरेंगे।उन्होंनेअवैधइंप्लांटपकड़ेजानेकेसमयजोचिकित्सकड्यूटीपरथेउनकीलिस्टमांगीहै।दूसरीओर,आर्थाेविभागमेंमरीजोंकीसर्जरीनहींहोपारहीहै।विभागकीओरसेसंस्थानप्रबंधनकोपत्रलिखकरसर्जरीकेलिएइंप्लांटउपलब्धकरानेकीमांगकीगईहै।हालांकि,चिकित्सकोंकीयहमांगजायजहैलेकिन,प्रबंधनऔरविभागकेबीचमामलाअटकगयाहै।मरीजोंकादर्दबढ़रहाहै।बतायाजारहाहैकिपूर्वन्यायधीशकीजांचकोरुकवानेकेलिएभीदबावबनायाजारहाहै।

कुलपतिडा.ओपीकालरानेकहाहैकिआयुष्मानभारतकेतहतपीजीआइकीओरसेसर्जरीकासामानउपलब्धकरायाजाएगा।अमृतस्टोरपरभीइंप्लांटवसर्जिकलसामानउपलब्धकरानेकेलिएकहागयाहै।