अंबाला में छात्रों के लिए मार्गदर्शक बनी समाजिक संस्था, पढ़ाई के साथ करवाई जाती है प्रवेश परीक्षा की तैयारी

अंबालाशहर,जागरणसंवाददाता।अंबालाशहरकेरिसालदारअमीरसिंहसूदनमेमोरियलसोसायटीविद्यार्थियोंकेलिएराहबनरहीहै।जिसमेंविद्यार्थियोंकोजहांपढ़ायाजाताहै,वहींविद्यार्थियोंकोअन्यजगहप्रवेशपानेकेलिएभीतैयारीकरवायीजातीहै।इसीकेचलतेयहांसेतैयारीकरनेकेबादविद्यार्थियोंकोनवोदयविद्यालयमेंप्रवेशमिलाहै।

रिसालदारअमीरसिंहसूदनमेमोरियलसोसायटीकेप्रधानलफ्टिनेंटकर्नलसुरेशचंद्रमेहतानेबतायाकिउनकीसंस्थाके35सदस्यहैंजोअपनीअपनीहिस्सेदारीडालतेहैं।इसकेसाथसमितिकीवजहसेस्कूलभीचलारहेहैं।उनकीसंस्थाकागठन2011मेंहुआथा।तभीसेसंस्थानेकामशुरूकियाथा।उन्होंनेबतायाकिनवोदयविद्यालयमेंअभीतक16बच्चोंकाचयनहोचुकाहै।जिनकीतैयारीकरवायीगईथी।वहींसैनिकस्कूलमेंप्रवेशकेलिएभीविद्यार्थीतैयारीकररहेहैं।पिछलेसाल5बच्चोंकाचयनहुआथा।लेकिनमेरिटमेंनहींआये।अभीउनकीमददकीजारहीहै।वहींजिनबच्चोंकेमाता-पितानहींहैंउसकेलिएभीग्रांटदेरहेहैं,जिसमेंस्कूलकीफीसदीजातीहै।उनकेचारबच्चेखालसास्कूलमेंपढ़रहेहैंजिनकीफीससंस्थादेरहीहै।इसकेसाथजोमेरिटमेंनहींआएथेउन्हेंअभीस्पोंसरकियाजारहाहै। उनकीकार्यकारिणीमेंरिटायर्डप्राचार्यसुभाषचंद्रशर्मा,अजीतकौर,सचिवसर्वजीतमेहता,एडवोकेटहरीश,उपप्रधानप्रेमलतासमेतमेंबरकाबड़ायोगदानहै।

स्कूलमेंकियेजातेहैंकार्यक्रम

उनकागांवबोहमेंस्कूलहै,जिसमें26जनवरी,15अगस्त,योगाडे,चिल्ड्रनडेसभीमनायेजातेहैं।फिलहालकोरोनाकेकारणकार्यक्रमोंमेंकमीआयीहै।कोरोनासेपहले153बच्चेस्कूलमेंथे,लेकिनउसकेबाद58रहगएहैं।इनकीआनलाइनक्लासलगरहीेहैं।उनकेपासपढ़नेवालेविद्यार्थियोंकोसिर्फमोबाइलनहोनेकीवजहसेजरूरदिक्कतहै।उन्हेंदूसरोंसेमोबाइललेकरपढ़ाईकरनीपड़तीहै।