अक्‍टूबर से जनवरी तक कैसा होगा कोविड-19 का भारत में प्रभाव, जानें एक्‍सपर्ट की जुबानी

नईदिल्‍ली(ऑनलाइनडेस्क)।पूरीदुनियामेंकोरोनासंक्रमितोंकीसंख्‍या2.28करोड़तकजापहुंचीहै।वहींभारतमेंये30लाखपहुंचनेवालीहै।बीतेकुछदिनोंसेहररोज60हजारसेअधिकमामलेसामनेआरहेहैं।ऐसेमेंहरकिसीकोइसकीवैक्‍सीनकाबड़ीहीबेसर्बीसेइंतजारहै।वहींएकबड़ासवालआनेवालेसमयसेभीजुड़ाहै,क्‍योंकिउत्‍तरभारतमेंआनेवालेदिनोंमेंसर्दीकीशुरुआतहोजाएगी।जबभारतमेंकोविड-19केमामलेआनेशुरूहुएथेउसवक्‍तउत्‍तरभारतमेंसर्दीकासमयथा।इसकेबादअबगर्मियोंकामौसमखत्‍महोनेवालाहै।ऐसेमेंआनेवालेसमयमेंकोविड-19काअसरकैसारहेगा,येएकऐसासवालहैजोदेशकेलाखोंलोगोंकेमनमेंहै।ऐसाइसलिएभीहैक्‍योंकिकोविड-19कीशुरुआतमेंकहाजारहाथाकितापमानबढ़नेकेसाथइसकाप्रकोपखत्‍महोजाएगा।लेकिनऐसानहींहुआ।

क्‍याकहतेहैंविशेषज्ञ

इसबारेमेंएम्‍सकेसेंटरफॉरकम्‍यूनिटीमेडिसिनकेप्रोफेसरडॉक्‍टरसंजयकुमाररायकामाननाहैकियेसिर्फइसबातपरनिर्भरकरताहैकिवहांपरयेवायरसकिसस्‍टेजमेंहै।आपकोबतादेंकिडॉक्‍टररायकीहीनिगरानीमेंभारतमेंकोविड-19केलिएबननेवालीवैक्‍सीनकाट्रायलजुलाईसेचलरहाहै।उन्‍होंनेभारतमेंइसकीदूसरीलहरआनेकीसंभावनाकोभीनकारदियाहै।हालांकि,उन्‍होंनेयेजरूरमानाहैकिदुनियाकेकुछदूसरेदेशोंमेंइसकीदूसरीलहरआतीदिखाईदेरहीहै,लेकिनभारतमेंइसकीसंभावनानकेहीबराबरहैं।

हर्डइम्‍यूनिटीकीतरफबढ़रहे

उनकाकहनाहैकिसिरोसर्वेकीरिपोर्टकेमुताबिककहाजासकताहैकिहमहर्डइम्‍यूनिटीकीतरफतेजीसेबढ़रहेहैं।रिपोर्टकेमुताबिकदिल्‍ली,मुंबईऔरपूणेमें30से50फीसदलोगइसवायरसकीचपेटसेबचेहुएहैं।इसकाअर्थयेहैकिइनमेंहर्डइम्‍यूनिटीबनचुकीहै।येलोगअपनेसाथदूसरोंकोभीप्रोटेक्‍टकररहेहैं।इसकाएकअर्थयेभीहैकिइनलोगोंसेफिलहालदूसरोंकेइंफेक्‍टेंडहोनेकीसंभावनानहींहै।वर्तमानरिपोर्टकेआधारपरमुंबईऔरदिल्‍लीमेंकोविड-19केमामलेअपनेअधिकतमस्‍तरकोछूचुकेहैं,जबकिदक्षिणभारतकेराज्‍योंमेंयेआनेवालेमाहमेंअधिकतमस्‍तरपरपहुंचजाएगा।कुछराज्‍योंकीरिपोर्टअबतकसामनेनहींआईहैइसलिएउनकेबारेमेंकुछनहींकहाजासकताहै।उत्‍तरपूर्वीराज्‍योंमेंयेकुछलंबाजाएगाक्‍यों‍किवहांपरइसकीशुरुआतदेरसेहुईहै।

क्‍याबरतनीहोंगीसर्दीमेंएहतियात

सर्दियोंमेंइसवायरसकोलेकरबरतीजानेवालीएहतियातबारेमेंपूछनेपरउन्‍होंनेकहाकियेवहीरहेंगीजोहमपहलेबरततेआरहेथे।उनकाकहनाहैकिइसवायरसकेफैलावयामोडऑफट्रांसमिशनकाआधारएकहीहै,लिहाजामौसममेंबदलावसेइसमेंकोईफर्कनहींआएगा।सर्दियोंमेंभीमुंहपरमास्‍कलगाकररखनाजरूरीहोगा,भीड़-भाड़वालीजगहोंपरजानेसेपरहेजकरनाहोगा।उनकेमुताबिकइसकेफैलावकासबसेबड़ाकारणखांसतेयाछींकतेवक्‍तबाहरगिरनेवालीड्रॉपलेट्सहीहैं।इसकेबादकंटेमिनेटेडसर्फेसहैऔरतीसरीसंभावनाहवासेफैलनेकीहैजोबेहदकमहै।

क्‍याट्रेवलकरताहैवायरस

येपूछेजानेपरकिक्‍यायेवायरसखुदसेभीकुछदूरीट्रेवलकरताहै,उनकाकहनाथाकिइसकेअबतककोईप्रमाणसामनेनहींआएहैं।यदियेवायरसआपकेकपड़ोंपरहैऔरआपवहांपरअपनाहाथलगातेहैंतोपहलेआपकाहाथइससेसंक्रमितहोगाफिरजहां-जहांआपइसहाथकोबिनाधोएलगातेजाएंगेवोसंक्रमितहोतेचलेजाएंगे।आंखयामुंहकोछूनेसेयेशरीरमेंजाकरनुकसानपहुंचासकताहै।हवाकेमाध्‍यमसेइसकेजानेकीसंभावनालगभगनकेहीबराबरहै।

रूसकीबनाईवैक्‍सीनपरराय

रूसकीबनाईवैक्‍सीनस्‍पूतनिकपरपूछेगएसवालकेजवाबमेंउनकाकहनाथाकिरूसनेइसवैक्‍सीनकेट्रायलकीरिपोर्टअबतकदुनियाकेसामनेनहींरखीहै।ऐसेमेंइसवैक्‍सीनकेबारेमेंकुछभीकहनासहीनहींहोगा।किसीभीदवाकोलाखोंमरीजोंकोदेनेसेपहलेपूरीप्रक्रियासेगुजरनाबेहदजरूरीहोताहै।लेकिनचूंकिरूसनेइसतरहकेकिसीभीट्रायलकोसार्वजनिकनहींकियाहैजिसकेआधारपरइसवैक्‍सीनकेबारेमेंकुछकहाजाए।लिहाजाइसकोइमरजेंसीमेंकिसीमरीजकोदेकरअपनानुकसाननहींकियाजासकताहै।उनकेमुताबिकऑक्‍सफॉर्डयूनिवर्सिटीमेंबनरहीवैक्‍सीनकेफर्स्‍टट्रायलकीरिपोर्टकोवैज्ञानिकोंनेदुनियाकेवैज्ञानिकोंकेसामनेरखाहै।लेकिनयेभीअभीतकफर्स्‍टट्रायलकेदौरमेंहीहै।उनकेमुताबिकहरट्रायलकीरिपोर्टऔरवैक्‍सीनकेपरिणामोंकीकमेटीबारीकीसेजांचकीकरतीहै।इसकेबादहीकोईवैक्‍सीनपूरीतरहसेसुरक्षितकहीजातीहै।

बेशर्मपाक!अपनीघटियाहरकतोंसेनकभीबाजआयाहैऔरनहीकभीआएगा

'देशमेंकोविड-19कीवैक्‍सीनआनेमेंलगेंगेछहमाहऔर,इनदोशहरोंमेंआचुकापीक....'