अजब-गजब: हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगवाने गए तब पता चला मोटरसाइकिल नहीं, कार चला रहे थे

गोरखपुर,जागरणसंवाददाता।मोटरसाइकिलमालिकजितेंद्रनवंबरसेहीअपनेवाहनपरहाईसिक्योरिटीरजिस्ट्रेशनप्लेटलगानेकेलिएपरेशानथे।उनकाआनलाइनआवेदननहींहोपारहाथा।दिसंबरमेंपताचलाकिपरिवहनविभाग(आरटीओ)मेंउनकीगाड़ीकानंबरहीबदलगयाहै।अबवेगाड़ीकानंबरसहीकरानेकेलिएविभागकाचक्करलगारहेहैं।

सिविललाइंसकेव्यवसायीरविकुमारनेदोसालपहलेमोटरसाइकिलखरीदीथी।डीलरनेएचएसआरपीकापैसाजमाकरनेकेबादभीप्लेटनहींलगाया।अबवहप्लेटकेलिएपरेशानहैं।लेकिनआनलाइनआवेदनहीनहींहोपारहा।एजेंसीऔरविभागकेयहांदौड़लगारहेहैं।15फरवरीकेबादकभीभीपांचहजाररुपयेकाजुर्मानाकटसकताहै।हाईसिक्योरिटीरजिस्ट्रेशनप्लेटलगवानेकेल‍िएगएकईलोगोंकोपताचलाक‍िउनकीरज‍िस्‍ट्रेशनपेपरपरमोटरसाइकिलकीजगहकारदर्जहै।

आरटीओकेरिकार्डमेंमनमानेढंगसेदर्जहैंवाहनोंकेनंबर,नहींहोपारहाआनलाइनआवेदन

जितेंद्रऔररविहीनहीं,जनपदकेलाखोंवाहनमालिकएचएसआरपीकोलेकरआरटीओऔरडीलरकीपेंचमेंउलझेहुएहैं।एकतोआनलाइनआवेदननहींहोरहा,अगरआवेदनहोभीगयातोसमयसेप्लेटनहींलगपारहीहै।अधिकतरवाहनस्वामियोंकोएचएसआरपीकेआवेदनकेसमयपताचलरहाहैकिवहदूसरीकंपनीकीगाड़ीचलारहेहैं।उनकेपासमौजूदरजिस्ट्रेशनसर्टिफिकेट(आरसी)मेंगाड़ीकीकंपनीकुछऔरहैऔरविभागमेंमौजूदअभिलेखमेंकुछऔर।ऐसेमेंएचएसआरपीकेलिएआनलाइनआवेदनहीनहींहोपारहा।

वाहनमालिकपरिवहनविभागकीलापरवाहीकाखामियाजाभुगतनेकोमजबूरहैं।एचएसआरपीकेचक्करमेंवाहनोंकानवीनीकरण,ट्रांसफर,स्थानांतरणऔरफिटनेसप्रमाणपत्रनहींबनपारहा।एचएसआरपीकेबिनापरिवहनविभागमेंफिटनेस,पुन:पंजीयनऔरपरमिटकेसाथहीसभीतरहकेकार्योंपररोकलगीहै।

सिर्फढाईलाखवाहनोंपरलगपाईहैएचएसआरपी

जनपदमें868452निजीऔर57959कामर्शियलवाहनपंजीकृतहैं।इसकेबादभीअभीतककुललगभगढाईलाखवाहनोंपरहीएचएसआरपीलगपाईहै। वाहनोंकेनंबरकेआधारपर15फरवरी2023तकहीचरणवारएचएसआरपीलगाईजानीहै।ऐसेमेंनिर्धारितसमयकेअंदरएचएसआरपीलगनाएकबड़ीचुनौतीबनीहुईहै।यहतबहैजबदोसालसेएचएसआरपीलगवानेकीसमयसीमालगातारबढ़तीजारहीहै।

सियामएपवपोर्टलपरहोताहैआनलाइनआवेदन

आवेदनकोलेकरवाहनस्वामीपरेशानहैं।शासननेआवेदनकेलिएसिर्फसियामएपवपोर्टलकोहीअधिकृतकियाहै।लेकिनतकनीकीखामियोंऔरविभागीयउदासीनताकेचलतेवाहनस्वामियोंकोदिक्कतोंकासामनाकरनापड़रहाहै।

आनलाइनआवेदनकरनेयाआवेदनकेबादभीएचएसआरपीनहींलगपारहीहैतोविभागसेसंपर्ककरसकतेहैं।तत्कालसमाधानहोगा।सहूलियतकेलिएसिस्टमकोऔरसरलबनायाजारहाहै।-अनीतासिंह,संभागीयपरिवहनअधिकारी-गोरखपुर।