अगर आपके सर्टिफिकेट में है गलतियां तो 5 मिनट में कर लें सुधार, 4 स्टेप में हो जाएगा सही; यह सुविधा एक बार ही मिलेगी

अगरआपकेकोरोनावैक्सीनेशनसर्टिफिकेटमेंकोईगड़बड़ीहोगईहैतोउसे5मिनटमेंसुधारसकतेहैं।बिहारसरकारकेस्वास्थ्यविभागकीतरफसे4स्टेपबताएगएहैं,जिसकेमाध्यमसेआपअपनेकोराेनावैक्सीनेशनसर्टिफिकेटकोहरस्तरसेसहीकरसकतेहैं।इसदौरानकोईहड़बड़ीयागलतीनहींकरनीहै,क्योंकिसुधारमात्रएकहीबारहोगा।अगरइसमेंभीगलतीहोगईतोकरेक्शनफिरनहींहोगा।

पासपोर्टकोभीकरसकतेहैंलिंक

स्वास्थ्यमंत्रीमंगलपांडेयनेबतायाकिअबकोविडप्रमाणपत्रकोअपनेपासपोर्टसेभीलिंककरसकतेहैं।साथहीअबअपनानामऔरसर्टिफिकेटमेंदर्जपतेजन्मतिथि,लिंग,पहचानसंख्याभीबदलसकतेहैं।बिहारमेंऐसेलोगोंकीसंख्याअधिकहै,जोप्रमाणपत्रमेंगड़बड़ीकोलेकरसिविलसर्जनकार्यालयोंकाचक्करकाटतेरहतेहैं।अबतकसुधारकोलेकरकोईऑप्शननहींथा,जिससेलोगकाफीपरेशानथे।

येहैंचारस्टेप

बिहारमेंनामकीगड़बड़ीकेमामलेअधिक

बिहारमेंनामकीगड़बड़ीकेबहुतमामलेहैं।पटनामेंसबसेअधिकनामऔरजन्मतिथिमेंगड़बड़ीकोलेकरहीसमस्याहै।कईमहिलाओंकेसर्टिफिकेटमेंलिंगमेंपुरुषदर्जहै।ऐसेहीअधिकसंख्यामेंलोगोंकीपहचानपत्रकानंबरहीगलतहै।बिहारमेंऐसेअधिकमामलेसामनेआएहैं।इसपरअंकुशलगानेकोलेकरऔरएकबारसुधारकोलेकरहीऐसाकियागयाहै,जिससेलोगोंकोसमस्यानहींहोनेपाए।

राज्यस्वास्थ्यसमितिकीतरफसेबतायागयाहैकिआपअपनेप्रमाणपत्रकोकेवलएकबारसुधारसकतेहैंऔरसुधारकीगईजानकारीआपकेअंतिमप्रमाणपत्रपरदिखाईदेगी।स्वास्थ्यविभागनेइसकीजानकारीदेतेहुएकहाहैकिअबलोगोंकोदिक्कतनहींहोगी,लेकिनसुधारकरतेसमयकोईगलतीनहींकरें,क्योंकिसुधारएकहीबारहोताहै।

सरकारनेकहाहैकि6माहमें6करोड़वैक्सीनेशनकाबड़ाटारगेटहै।इसमेंभीकोईगड़बड़ीहोगीतोसुधारहोजाएगा।अबपुरानेऔरनएसभीलोगोंकेलिएयहव्यवस्थाबनाईगईहै।कोईभीकभीभीअपनेप्रमाणपत्रकीगलतीकोएकबारसुधारकरसकताहै।

बिहारमेंवैक्सीनेशनकाहाल

अबतककुल1,82,65,824लोगोंनेकोरोनाकीवैक्सीनलीहै।इसमेंपहलीडोजलेनेवालोंकीसंख्या1,56,44,966है।जबकि,26,20,858लोगोंनेदूसरीडोजलीहै।इसमेंपुरुषोंकीसंख्या99,97,477हैऔरमहिलाओंकीसंख्या82,64,945है।कोवीशील्डलेनेवालोंकीसंख्या1,63,59,240औरकाेवैक्सिनलेनेवालोंकीसंख्या1,90,59,96है।शुक्रवारकोबिहारमें1,897सेंटरपरवैक्सीनेशनहोरहाहै,जिसमें1,893सेंटरसरकारीऔर4निजीहैं।