आस्था व विश्वास का केंद्र अटहर देवी

देवरिया:जनपदमुख्यालयसे14किमीदूरसलेमपुर-देवरियामार्गपरखुखुंदूगांवकेउत्तरदिशामेंअटहरदुर्गामाताकामंदिरहै।यहांसरकारीवनिजीसाधनसेजासकतेहैं।पूर्वमेंजंगलमेंमौजूदयहमंदिरसैकड़ोंवर्षसेलोगोंकीआस्थाकाकेंद्रहै।सच्चेमनसेयहांजोभीमांगाजाताहैउसेमांपूराकरतीहैं।नवरात्रिमेंबड़ीसंख्यामेंलोगपहुंचतेहैंऔरमांकादर्शनवपूजन-अर्चनकरतेहैं।

खुखुंदूस्थितमाताकामंदिरसांप्रदायिकसौहार्दवआस्थाकाकेंद्रहै।यहांहिदू-मुस्लिमदोनोंसमुदायकेलोगआतेहैंऔरशीशनवातेहैं।जमींदारबाबूकाशीप्रसादरायकेबारेमेंकिवदंतीहैकिवर्षोंसेपरिवारमेंबच्चेकीकिलकारीनहींगूंजी।उन्होंनेमांकेचरणोंमेंशीशझुकायाऔररविनंदनवविजयदोसंतानहुई।उन्होंनेमंदिरकाजीर्णोद्धारकराया।चैत्रनवरात्रमेंतीनदिवसीयमेलालगताहै।यहांदूर-दूरसेलोगपूजाकोआतेहैं।यहांनवरात्रमेंपूजन-अर्चनकाविशेषमहत्वहै।

पूजन-अर्चनकेलिएजुटतेहैं,लेकिननवरात्रमेंदूर-दूरसेबड़ीसंख्यामेंश्रद्धालुयहांपहुंचतेहैंऔरमांकेचरणोंमेंहाजिरीलगातेहैं।मान्यताहैकिश्रद्धावविश्वासकेसाथशीशझुकानेपरमांमुरादपूरीकरतीहैं।मंदिरमेंआजभीपिडीकीपूजाहोतीहै।सोमवारवशुक्रवारकोभक्तोंकातांतालगारहताहै।

अटहरदुर्गामंदिरमेंसच्चेमनसेमांगीगईहरमुरादपूरीहोतीहै।लोगमुरादपूरीहोनेपरहाथी,घंटावअन्यवस्तुएंदानकरतेहैं।

गिरीशतिवारी,पुजारी

अटहरदुर्गामांकेदरबारमेंसभीमुरादपूरीहोतीहै।सच्चेमनसेआनेवालेहरभक्तकीमनोकामनामांपूरीकरतीहैं।

कृष्णावतीदेवी,श्रद्धालु