आकाशवाणी के स्टाफ क्वाटर खस्ताहाल

संस,अल्मोड़ा:आकाशवाणीअल्मोड़ाकेस्टाफक्वाटरभवनखस्ताहालहोचुकेहैं।इनभवनोंकीस्थितिदूरसेहीबयांहोरहीहैकिउनकाकोईसुधलेवानहींहै।करोड़ोंकीलागतसेबनेयहभवनशीर्णहोतेजारहेहैं।बहुमंजिलेभवनोंमेंघासजमचुकीवजगह-जगहभवनटूटनेलगेहैंलेकिनइसकीमरम्मतकेलिएवर्षोसेकोईकार्रवाईनहींकीजारहीहै।

नगरकेप्रवेशद्वारमेंहीअल्मोड़ाआकाशवाणीकेंद्रहै।आकाशवाणीभवनकेपासहीस्टाफक्वाटरबनाएगएहैं।शुरूमेंजबआकाशवाणीकेंद्रकीस्थापनाहुईतोउसमेंकार्मिककार्यरतथे।इनकेरहनेकीव्यवस्थाकेलिएकरोड़ोंकीलागतसे64क्वाटरबनाएगएलेकिनवर्तमानमेंकेवल24क्वाटरोंमेंहीकर्मचारीरहरहेहैं।40क्वाटरवर्षोसेखालीपडे़हैं।आकाशवाणीकेंद्रकीसिविलकंस्ट्रक्शनविग(सीसीडब्ल्यू)कोइसकीदेखरेखकाजिम्माहैलेकिनविगकीवर्तमानमेंअल्मोड़ामेंकोईशाखानहींहै।यहीहालरहातोयहक्वाटरभविष्यमेंजमींदोजहोसकतेहैं।

आकाशवाणीकेभवनोंकीहालतदयनीयहै।लावारिससेपडे़अधिकरक्वाटरोंकावर्षोसेउपयोगनहींहोरहाहै।करोड़ोंकीलागतसेबनेभवनजर्जरहालतमेंपहुंचगएहैं।इसकेसुधारीकरणकेलिएप्रसारभारतीनईदिल्लीकोपत्रभेजाहै।सुझावदियागयाहैकियदिविभागकेकर्मचारियोंकीआवश्यकतासेअधिकक्वाटरहैंतोउन्हेंजिलाप्रशासनसेअनुबंधकरसरकारीकर्मचारियोंकोनिर्धारितकिरायालेकरउपलब्धकरायाजाएताकिइनभवनोंकारखरखावहोसके।

-प्रकाशचंद्रजोशी,पालिकाध्यक्ष

------क्वाटरोंकीमरम्मतकेलिए16लाखरुपयेस्वीकृतहोचुकेहैं।जल्दहीआकाशवाणीकेक्वाटरोंकेमरम्मतकाकार्यशुरूकियाजाएगा।रंगरोगनकीव्यवस्थाभीकीजाएगी।

-प्रतुलजोशी,सहायकनिदेशकआकाशवाणीअल्मोड़ा