आइटीडीए में बगैर टेंडर के चल रहा करोड़ों का काम

जागरणसंवाददाता,राउरकेला:समन्वितआदिवासीविकासविभाग(आइटीडीए)मेंकरोड़ोंकाकामबगैरटेंडरकेकरायाजारहाहै।ठेकेदारवअधिकारियोंकीमिलीभगतमेंलाखोंकीहेराफेरीभीहोरहीहै।इससेपहलेकामलोकनिर्माणविभागद्वाराटेंडरकेजरिएकरायाजारहाथा।इसतरहजिलेकेअन्यक्षेत्रोंमेंभीआइटीडीएकेअधीनस्थभवनवपुलनिर्माणकाकामबगैरटेंडरकेचलरहाहै।

सुंदरगढ़मेंसरकारीअतिथिभवनकेछतपरटीनसीटलगाकरउसकापुनरुद्धारकाकामकियागया।इसकेलिएआइटीडीएकेपरियोजनाअधिकारीकेकार्यालयमें96लाखरुपयेकीस्वीकृतिदीगईपरइसकाटेंडरकिएबगैरराज्यकेबाहरकेएकठेकेदारकोकामदेदियागया।इसेलेकरस्थानीयठेकेदारोंमेंरोषहै।सरकारीनियमानुसारपांचलाखसेअधिककीकिसीभीयोजनाकाटेंडरहोनाजरूरीहै।सरकारीअतिथिभवनकापुनरुद्धारकाकाम96लाखकाहोनेकेबावजूदआइटीडीएकीओरसेइसकाटेंडरनहींकियागया।इसीपरिसरमेंएकभवननिर्माणकाकामलोकनिर्माणविभागकेजरिएकरायाजारहाहैजिसकेलिएटेंडरकियागयाहै।इससंबंधमेंआइटीडीएकेपरियोजनाअधिकारीरामचंद्रगोंडसेपूछेजानेपरउन्होंनेअतिथिभवनकाकामबिनाटेंडरकेकरनेकीबातस्वीकारकीहैपरऐसाक्योंकियागयाइसकाजवाबउन्होंनेनहींदिया।निर्माणकार्यमेंसरकारीनियमोंकाउल्लंघनकरलाखोंकीहेराफेरीहोनेकीआशंकाजताईजारहीहै।