आइएएस या फौजी अफसर बनना है गर्वित का लक्ष्य

जासं,फरीदाबाद:जीवापब्लिकस्कूलकेछात्रगर्वितआ‌र्ट्ससंकायमें83फीसदअंकप्राप्तकरकेकाफीखुशहैऔरउन्होंनेअपनेकरियरकोसंवारनेकेलिएविकल्पभीतलाशशुरूकरदिएहैं।इनकामुख्यउद्देश्यदेशकीसेवाकरनाचाहतेहैं।इसकेलिएवहभारतीयसेनावप्रशासनिकसेवाकीप्रवेशपरीक्षाकीतैयारीकरेंगे।इसकेअलावावहदिल्लीविश्वविद्यालयकेकिसीकॉलेजमेंदाखिलालेकरराजनीतिशास्त्रमेंऑनर्सकरेंगे।गर्वितनेबतायाकिएग्जामफोबियाकोकभीहावीनहींहोनेदियाहैऔरपरीक्षाकेसमयमेंखेलनेअवश्यजातेथे।इससेतनावनहींरहताहै।गर्वितकेपिताव्यवसायीहैंऔरमातासीमाफागनाएकगृहणीहैं।उन्होंनेबतायाकिवहकेवलस्कूलमेंपढ़ाएगएपाठ्यक्रमकारिवीजनकरतेरहतेथेऔरपरीक्षाकेदौरानभीअध्यापकोंकेटचमेंरहतेथेऔरविषयसंबंधीदुविधाहोनेपरपूछनेपरसंकोचनहींकरतेथे।इसकेअलावाउन्होंनेइतिहासऔरभूगोलकीट्यूशनभीलीथी।

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप