5 हजार लोगों की सांसों के लिए मुसीबत बना जहरीला धुआं, जाजमऊ से हटाए जाने के बाद महाराजपुर में शुरू हो गया अवैध कारोबार, डीएम ने मांगी रिपोर्ट

पर्यावरणऔरइंसानोंकेलिएमुसीबतबनीग्लूभट्ठियांअबफिरसेधधकनेलगीहैं।अवैधतरीकेसेइन्हेंअबमहाराजपुरकेपुरवामीरकेजंगलोंसंचालितकियाजारहाहै।इससेआसपासके1दर्जनसेअधिकगांवकेकरीब5हजारलोगोंकायहांजीनादुश्वारहोगयाहै।जानवरोंकीखालकेजलनेकीदुर्गंधऔरभट्ठियोंसेनिकलनेवालेकालेधुएंसेलोगपरेशानहोउठेहैं।मामलेमेंडीएमविशाखजीअय्यरसेएसडीएमनर्वलसेरिपोर्टमांगीहै।

चमड़ेकोजलाकरबनातेहैंखाद

चमड़ेकीछीलनकोभट्ठीमेंगलाकरखादबनानेकाकामजोरोंपरचलरहाहै।जिसकीदुर्गन्धसेग्रामीणपरेशानहैं।जाजमऊसेभट्ठियोंकोहटवानेकेबादसंचालकोंनेपुरवामीरकेजंगलमेंअपनाडेराबनालियाहै।मामलेमेंयूपीपॉल्यूशनकंट्रोलबोर्डआरओअनिलमाथुरनेबतायाकिएसडीएमनर्वलनेरिपोर्टमांगीथी।सभीभटि्ठयांअवैधहैं।बोर्डनेकिसीकोभीएनओसीनहींदीहै।

खालजलानेसेपॉल्यूशनज्यादा

स्थानीयलोगोंकेमुताबिकबीते1सालसेयेभटि्ठयांयहांसंचालितहोरहीहै।आसपासखेतीपरभीइसकेकालेधुएंकाअसरपड़नेलगाहै।क्योंकिभट्‌ठीकोजलानेकेलिएजानवरकीखालकोभीजलायाजाताहै।इससेबेहदकालाधुआंऔरदुर्गंधपैदाहोतीहै।वहींकिसानोंकीफसलभीपीलीपड़नेलगीहै।गांवमेंएककेबादएककरीब14भट्ठियांधधकरहीहैं।इससेपुरवामीर,सिकटियासमेतकरीब1दर्जनगांवमेंलोगसांसकेमरीजतकहोगएहैं।

एनजीटीकीसख्तगाइडलाइन

2सालपहलेतकजाजमऊमेंटेनरीकेआसपाससैकड़ोंकीसंख्यामेंभट्टियांसंचालितहोतीथी।कईभटि्टयांतोचकेरीएयरफोर्सस्टेशनकेआसपाससंचालितकीजारहीथी।लेकिननेशनलग्रीनट्रिब्यूनल(एनजीटी)केसख्तआदेशोंकेबादभीसभीभट्ठियोंकोतोड़करहटादियागया।लेकिनअबयेभट्ठियांमहाराजपुरमेंअवैधतरीकेसेसंचालितहोनाशुरूहोगईहैं।

डीएमनेमांगीरिपोर्ट

ग्रामीणोंकीलगातारशिकायतकेबादअबडीएमविशाखजीअय्यरनेपूरेमामलेमेंनर्वलएसडीएमअमितओमरसेरिपोर्टमांगीहै।एसडीएमअमितओमरनेबतायाकिरिपोर्टडीएमकोभेजीगईहै।क्षेत्रमेंकरीब7भट्ठियांसंचालितहोतेपाईगईहैं।आदेशोंकेबादकार्रवाईकीजाएगी।