27 सहकारी समितियां बंद, अन्नदाता मजबूर

संवादसूत्र,बलरामपुर:

सरकारभलेहीस्वावलंबनवसहकारिताकोबढ़ावादेरहीहै,लेकिनजिलेमेंकर्मियोंकीकिल्लतसहकारिताकीकमरतोड़रहीहै।62सहकारीसमितियोंमेंसे27सहकारीसमितियांबंदचलरहीहैं।वर्षोंसेयहांसचिवोंकीतैनातीनहोनेसेइनकेभवनोंमेंतालालटकरहाहै।बंदपड़ीसहकारीसमितिक्षेत्रकेकिसानमजबूरहोकरनिजीदुकानोंपरखाद-बीजखरीदरहेहैं।निजीदुकानदारअधिकमूल्यलेकरनकलीखादवबीजबेंचरहेहैं।मजबूरकिसानोंकेपासकोईविकल्पनहोनेकेकारणउन्हेंखरीदनापड़रहाहै।सहीखादवबीजनमिलनेसेकिसानोंकीफसलखराबहोरहीहै।इससेखेतीसेउनकामोहभंगहोरहाहै।रेहराबाजारब्लाकमें10समितियोंमेंसाधनसहकारीसमितिरामपुरअरनावपरसियापतकरपुरकासंचालनहोरहाहै।बाकीआठबंदहैं।मनुवागढ़,अलाउद्दीनपुरसलेमपुरकासंचालनपूर्वसचिवरामफेरकररहेथे।उनकीसेवानिवृत्तिकेबादतालालटकरहाहै।मुबारकपुर,बैरियासुर्जनपुरअधीनपुर,नयानगरकुसमौरकासंचालनसचिवहरिभजनकररहेथे।सेवानिवृत्तिकेबादबंदहै।ग्रामीणनंदकिशोरश्रीवास्तव,रामतेजचौहान,अखंडप्रतापसिंह,अतुलउपाध्याय,गंगाराम,राजेशनेबतायाकिखादबीजकेलिएभटकनापड़रहाहै।किसानकनिकराम,रामचंदर,मोहनलाल,रामतेज,आज्ञारामवर्मा,मघईराम,गयालाल,रामप्रसादनेबतायाकिसमितिपरखादबीजनमिलनेसेनकलीमिलनेकाभयबनारहताहै।इससेफसलखराबहोजातीहै।भ्रष्टाचारनेचौपटकीव्यवस्था:

सहायकआयुक्तसहकारिताएवंनिबंधनअमरेशमणितिवारीकाकहनाहैकिसमितियोंकोबंदकरनेकाकारणउनकीभ्रष्टकार्यशैलीरहीहै।बंद27में18समितियांमेंगबनकेमामलेसचिवोंपरहैं।आरोपितसचिवपरमुकदमालिखाहै।इनकेनिस्तारणहोनेकेबादहीसंचालनहोपाएगा।शेषकासंचालनकरानेकेलिएशासनकोपत्रलिखाजारहाहै।