25 दिनों में लगाना था ऑक्सीजन प्लांट, सरकारी पेच में फंसने से हफ्ते में ही रूक गया काम

संवादसहयोगी,हांसी:जिसऑक्सजीनप्लांटको25दिनोंमेंस्थापितकरनेकाप्रशासनदावाकररहाथाउसकाकाममहजएकहफ्तेबादहीरूकगयाहै।दूसरीतरफकोरोनावायरसउपमंडलकेशहरीऔरग्रामीणक्षेत्रोंमेंतेजीसेफैलरहाहै,लेकिनइससेलड़नेकेलिएसरकारकीतैयारियांधीमीनजरआरहीहैं।शहरमेंऑक्सीजनप्लांटनाहोनेसेमरीजोंकोप्राणवायुऑक्सीजनकेलिएस्थानीयमरीजकोअन्यशहरोंपरनिर्भरहैं।बतायाजारहाहैकिप्लांटकीमंजूरीसंबंधितफाइलसरकारीपेचमेंफंसगईहै।

बतादेंकिहांसीमेंकोरोनालगातारघातकसाबितहोरहाहै।शुक्रवारकोहांसीमेंकोरोनाके71नएमामलेसामनेआएहैंऔरसरकारीआंकड़ोंकेअनुसारपांचलोगकोरोनावायरससेजंगहारगए।हांसीमेंएक्टिवकेस432हैंऔर64कोरोनामरीजस्वस्थहुएहैं।प्रेमनगरनिवासी60वर्षीयमहिला,कृष्णाकॉलोनीनिवासी69वर्षीयबुजुर्ग,जींदचौकनिवासी58वर्षीयमहिलासहितदोअन्यव्यक्तियोंकीकोरोनासेमौतहुईहै।इसकेअलावासिसायवसोरखीसीएचसीमेंभीकोरोनाकेमामलेलगातारसामनेआरहेहैं।ऐसेमेंगंभीरमरीजऑक्सीजनकेलिएहिसारपरनिर्भरहैं।सिविलअस्पतालमेंऑक्सीजनप्लांटकाकामफिरसेकबशुरुहोगीइसबारेमेंअधिकारियोंकेपासकोईजवाबनहींहै।सूत्रोंकेमुताबिक200लीटरप्रतिमिनटऑक्सीजनजनरेटकरनेकीक्षमतावालेप्लांटकीमंजूरीनामिलनेकीवजहसेकामरोकागयाहै।एसडीएमडॉजितेंद्रसिंहनेबतायाकिइसबारेमेंउच्चाधिकारियोंसेबातचीतकीजाएगी।

आइसोलेशनवार्डकीतैयारीशुरु,15ऑक्सीजनकंसंट्रेटरपहुंचे

जिलाप्रशासनद्वाराहांसीकेसिविलअस्पतालमेंआइसोलेशनवार्डबनानेकीतैयारीकीजारहीहै।यहां20बेडकाआइसोलेशनवार्डहोगाजिसकेलिएबेडलगादिएगएहैं।इसकेअलावा15ऑक्सीजनकंसंट्रेटरमशीनेंभीअस्पतालमेंपहुंचगईहैं।अस्पतालमेंऑक्सीजनकीसेंट्रलसप्लाईनाहोनेसेकोरोनामरीजोंकाइलाजनहींहोपारहाथा।अबऑक्सीजनकंसंट्रेटरमशीनेंअस्पतालमेंभेजीगईहैंऔरउम्मीदकीजारहीहैकिजल्दकोरोनामरीजोंकोअस्पतालमेंइलाजमिलनेलगेगा।हांसी-71