21 करोड़ खर्च पर सड़क पर गड्ढे ही गड्ढे

संवादसूत्र,थल:जीरोटोलरेंसकीकामकाजपरलगातारसवालउठरहेहैं।भारीभरकमधनराशिखर्चकरनेकेबादभीसड़कोंकेहालजसकेतसबनेहुएहैं।ताजामामलाथल-डीडीहाटसड़ककाहै।सडकमेंकईजगहकाजवेटूटजानेसेगड्ढेबनगएहैं।इनगड्ढोंमेंभरापानीवाहनचालकोंकेलिएपरेशानीतोखड़ीकरहीरहाहैसाथहीहादसेकोभीआमंत्रणदेरहाहै।

25किलोमीटरलंबीथल-डीडीहाटसड़कसुधारीकरणकेलिएसरकारनेपिछलेवर्ष21करोड़कीभारीभरकमधनराशिखर्चकीथी।एनएचलोहाघाटद्वारासुधारीगईसड़कमेंएकवर्षकेभीतरहीडामरउखड़नेलगाहै,जिससेकईस्थानोंपरसड़कफिरसेजर्जरहालहोगईहै।कईजगहकाजवेटूटगएहैं,जिससेसड़कमेंगड्ढेबनगएहैं।हल्कीसीबरसातहोनेपरहीइनगड्ढोमेंपानीभरजारहाहै,जिससेइससड़कपरवाहनचलानेवालेचालकखासेपरेशानहैं।चालकोंनेआशंकाजताईहैकिगड्ढोंकेचलतेकभीभीबड़ाहादसासंभवहै।चालकोंनेसड़ककीहालतशीघ्रसुधारेजानेकीमांगउठाईहैतोक्षेत्रवासियोंने21करोड़रूपयेकीधनराशिखर्चकिएजानेकीजांचकीमांगकीहै।