14 साल बाद Crime mannual में बदलाव करने जा रही है सीबीआइ, जानें क्यों लिया ये फैसला

नईदिल्ली,एएनआइ। केंद्रीयजांचब्यूरो(CBI)अपनेक्राइममैनुअल(CBIcrimemanual)मेंबदलावकरनेजारहाहै।इससेपहलेसीबीआईने2005मेंअपनीक्राइममैनुअलमेंबदलावकिएथे।एजेंसीनेबुधवारकोइसकीजानकारीदीहै।

सीबीआइकेप्रवक्तानेकहाकि2005मेंक्राइममैनुअलमेंकिएगएबदलावकेबादभ्रष्टाचारनिरोधक(पीसी)अधिनियम,आपराधिकप्रक्रियासंहिता(सीआरपीसी)मेंकुछसंशोधनहुएहैंऔरसुप्रीमकोर्टनेभीबड़ीसंख्यामेंनिर्णयदिएहैं।वरिष्ठअधिकारियोंनेकहाकिसीबीआईअधिकारीमामलेकीजांचकेलिएक्राइममैनुअलकाहीपालनकरतेहैं,जिसकेतहतपहलेप्रारंभिकजांचकीजातीहैंयाप्रारंभिकजांचकोएफआईआरमेंपरिवर्तितकरतेहैं।

प्रवक्तानेआगेकहाकिसीबीआईनेकहाकिसाइबरक्राइमपहलेजैसानहींथा।प्रवक्तानेकहा,विभिन्नराज्यों,पुलिसबलोंकेबीचसमन्वयबढ़ानेकेलिएकामचलरहाहैकिअंतर-राज्यअपराधकैसेजुड़ेहैं।पहलेबहुतकमलोगजोअपराधकरतेथे,वेभारतकेबाहरजातेथे।साथहीउन्होंनेकहाकिआजकेतकनीकीदौरमेंसाइबरक्राइमकेमामलेबढ़गएहैं।इसवजहसेसीबीआईअपनेक्रिमिनलमैनुअलमेंबदलावकररहीहै।

अबसीबीआईकोअन्यदेशोंसेभीअनुरोधमिलतेहैं।यहलंबेसमयकेलिएरोडमैपहै।सीबीआईने4और5सितंबरकोसाइबरअपराधजांचऔरफोरेंसिकपरदोदिवसीयसम्मेलनकाआयोजनकियाथा,जिसमेंविभिन्नसंगठनोंऔरराज्योंकेपचाससेज्यादाअधिकारियोंनेभागलियाथा।राष्ट्रीयस्तरपरसीबीआईद्वाराआयोजितविषयपरयहपहलासम्मेलनथा।

येभीपढ़ें:दिल्लीमेंSCOदेशोंकेमिलिट्रीमेडिसिनकॉन्फ्रेंसमेंनहींपहुंचापाकिस्तान,कियाथाआमंत्रित