11 बच्चों का भविष्य अधर में लटका

जागरणसंवाददाता,बागेश्वर:प्राथमिकविद्यालयजाखनीमेंपढ़रहे11बच्चोंकाभविष्यअधरमेंलटकगयाहै।चारदिनपूर्वएकलशिक्षककातबादलाहोगयाहै।अबशिक्षामित्रकेहवालेस्कूलकीव्यवस्थाएंहैं।इतनाहीनहींबरसातमेंस्कूलकीछतटपकभीरहीहै।मध्याह्नभोजनकक्षजीर्णशीर्णहालतमेंहैऔरभोजनकक्षा-कक्षोंमेंबनायाजारहाहै।अभिभावकोंमेंव्यवस्थाकोलेकरभारीरोषहै।उन्होंनेशिक्षककीतैनातीजल्दसेजल्दकरनेकीमांगकीहै।

विद्यालयप्रबंधनसमितिकेअध्यक्षसुरेंद्रप्रसादकेनेतृत्वमेंअभिभावकोंनेजिलाशिक्षाधिकारीकोदिएज्ञापनमेंकहाकिराजकीयप्राथमिकविद्यालयजाखनीमेंतैनातसहायकअध्यापककातबादलाहोगयाहै।स्कूलमेंग्रामीणक्षेत्रकेगरीबबच्चेपढ़रहेहैं।वर्तमानमेंकक्षाएकसेपांचतककक्षाएंसंचालितहोरहीहैं।शिक्षककातबादलाहोनेपर11बच्चोंकाभविष्यअधरमेंलटकगयाहै।उन्होंनेबतायाकिएकशिक्षामित्रतैनातहैं।जिनकीजिम्मेदारीबढ़गईहै।उन्हेंमध्याह्नभोजनसेलेकरअन्यकामभीदिखनेपड़रहेहैं।उन्होंनेबतायाकिस्कूलभवनजर्जरहालतमेंपहुंचगयाहै।बरसातमेंछतटपकतीहैऔरबच्चोंकेकापी-किताबभीगजातेहैं।मध्याह्नभोजनकोबनाकमराभीपूरीतरहक्षतिग्रस्तहोगयाहै।भोजनआदिकक्षा-कक्षयाफिरबरामदेमेंबनरहाहै।अभिभावकोंनेकहाकियदिशीघ्रशिक्षककीतैनातीऔरभवनोंकानिर्माणनहींकियागयातोग्रामीणआंदोलनकोबाध्यहोंगे।इसअवसरपररतनराम,ममतादेवी,गण्श्राम,सुंदरप्रकाश,देवकीदेवी,ललितप्रसाद,गीताजोशी,आशादेवी,लक्ष्मीदेवीआदिमौजूदथे।