1.70 लाख हेक्टेयर में होगी गेहूं की बिजाई, 15 नवंबर तक अगेती की कर सकते हैं बिजाई

जागरणसंवाददाता,करनाल:इसबारजिलेमें1.70लाखहेक्टेयरमेंगेहूंकीबिजाईकीजाएगी।अगेतीकिस्मोंकीबिजाईकिसानोंनेशुरूकरदीहै।किसानजब21से23डिग्रीकेबीचतापमानहोतबगेहूंबिजाईकरसकतेहैं।अमूमनगेहूंबिजाईकासमयएकनवंबरसेशुरूहोताहै,लेकिनकुछकिसानोंनेअक्टूबरमाहमेंभीगेहूंकीबिजाईकीहै।भारतीयगेहूंएवंजौअनुसंधानसंस्थानकेमुताबिकसमयपरबिजाईकेलिएकिसानएचडी-2967,डब्ल्यूएच-1105,एचडी-3086,डीबीडब्ल्यू-88,एचडी-सीएसडब्ल्यू-18,पीबीडब्ल्यू-550किस्मोंकीबिजाईकरसकतेहैं।किसानभाईअभीभीकईप्रकारकीगेहूंकीकिस्मेंहैंजिनकीबिजाईअभीकीजासकतीहै।येकिस्मेंपछेतीहैंऔरइनकीबिजाईकरअच्छाउत्पादनलियाजासकताहै।

डिप्टीडायरेक्टरएग्रीकल्चरडॉ.आदित्यप्रतापडबासकेमुताबिककिसानयदिसमयपरबिजाईकरेंतोउत्पादनभीअच्छाहोगा।खादवबीजकीकिसीभीप्रकारकीदिक्कतहैतोकिसानउन्हेंकार्यालयमेंमिलसकतेहैं।

दीमकसेऐसेकरसकतेहैंबचाव

वैज्ञानिकोंकेअनुसारदीमकसेबचावकेलिएबिजाईसेएकदिनपहले150मिलीलीटरक्लोरपाइरीफॉस20ईसीपानीमेंमिलाकरकुलपांचलीटरघोलबनाएंपक्केफर्शपर100किलोग्रामगेहूंकोफैलाकरइसघोलसेउपचारितकरें।

बुआईसेपहलेडालेंगोबरकीखाद

बुआईसेपहलेगोबरकीखादपांचसे10टनप्रतिहेक्टेयरकीदरसेमृदामेंअच्छीतरहसेमिलाएं।देरीसेबोएजानेवालेगेहूंमेंकमखादकीजरूरतहोतीहै।प्रतिहेक्टेयर90से120केजीनाइट्रोजन,60केजीफॉस्फोरस,40केजीपोटाशकाप्रयोगकरें।नाइट्रोजनकीएकतिहाईमात्राफॉस्फोरसएवंपोटाशकीपूरीमात्राबुआईकेसमयडालें।नाइट्रोजनकीशेषमात्राखड़ीफसलमेंपहलीदूसरी¨सचाईसेपहलेदें।

कमनमीमेंनाकरेंबिजाई

किसानजमीनमेंनमीकीकमीहोतोसबसेपहलेबुआईपूर्वकी¨सचाईकरें।जीरोटीलेजजुताईतकनीकसेबुआईकरें।यदिखेततैयारकरनाआवश्यकहैतोजबजमीनजुताईयोग्यहोजाएतोमिट्टीपलटनेवालेहलसेयाडिस्कहैरोसेएकगहरीजुताईकरनेकेबादकल्टीवेटरसेखेतकीजुताईकरें।हरजुताईकेबादपाटाजरूरलगाएं।

समयसेचूकजाएंतोयहपछेतीकिस्मेंआएंगीकामएचडी-3059:पछेतीबिजाईअधिकपछेतीबिजाईमेंअधिकपैदावारदेनेवालीकिस्महै।यहबौनीहैऔर121दिनोंमेंपकजातीहै।दानापकतेसमयहोनेवालीगर्मीलवणोंकोसहनेमेंसक्षमहै।यहकिस्मरतुआअवरोधीहै।इसकीपौष्टिकगुणवत्ताअच्छीहैऔरप्रोटीनप्रचूरमात्रामेंहोतेहैं।

औसतपैदावार-17¨क्वटलप्रतिएकड़

राज-3765:यहपछेतीबिजाईमेंअधिकपैदावारदेनेवालीकिस्महै।यहएकबौनीकिस्महै।जिसकेतनेसघनतथाअधिकफुटाववालेहोतेहैं।इसकातनामजबूतहोताहै।इसकीपत्तियांसघन,नुकीलीपकनेपरसफेदहोतीहैं।इसमेंपीलारतुआकमलगताहै।वैज्ञानिकसलाहभीलें।

औसतपैदावार-16¨क्वटलप्रतिएकड़

डब्ल्यूएच-1021:यहभीबौनीकिस्महै।यहगिरतीनहींहैऔरपौधेसघनतथाअधिकफुटाववालेहोतेहैं।बालियांलंबी,दानेमध्यमआकारके,सख्तशरबतीरंगकेहोतेहैं।किस्मगेहूंकीप्रमुखबीमारियोंकेप्रतिरोधकहै।यह121दिनोंमेंपकजातीहै।दानापकतेसमयहोनेवालीगर्मीलवणोंकोसहनेमेंसक्षमहै।इसकीबिजाईकेलिएबीजकीमात्रा50किलोग्रामरखें।

औसतपैदावार-15.6¨क्वटलप्रतिएकड़

डीबीडब्ल्यू-90:यहबौनीकिस्महैजो121दिनोंमेंपकजातीहैदानापकतेसमयहोनेवालीगर्मीलवणोंकोसहनेमेंसक्षमहै।यहपछेतीबिजाईमेंअधिकपैदावारदेनेवालीकिस्महै।यहकिस्मरतुआअवरोधीहैचपातीबिस्किटब्रेडबनानेकेलिएउपयुक्तहै।इसकीपौष्टिकगुणवत्ताअच्छीहै।

औसतपैदावार-17.1¨क्वटलप्रतिएकड़

डब्ल्यूएच-1124:यहकिस्मअधिकपैदावारगुणवत्तावालीनईकिस्महै।इसकीऔसतऊंचाई91सेंटीमीटरहै।पौधेसघनतथाअधिकफुटाववालेहोतेहैं।इसकातनामजबूतहैइसलिएयहगिरतीनहींहै।बालियांमध्यमलंबी,दानेमध्यमआकारकेसख्तशरबतीरंगकेहोतेहैं।यहकिस्मगेहूंकीप्रमुखबीमारियोंकेप्रतिरोधीहै।इसकीपौष्टिकगुणवत्ताअच्छीहै।यह121दिनोंमेंपकजातीहेदानापकतेसमयहोनेवालीगर्मीकोसहनकरनेमेंसक्षमहै।

औसतपैदावार-17.1¨क्वटलप्रतिएकड़