शद में जरूर आन पक्चर

डा. देव ने कहा कि गठिया, जोड़ों के दर्द आदि का कारण गलत तरीके के उठने-बैठने से एवं अनियमित दिनचर्या के साथ गलत खान पान है। नियमित रूप से व्यायाम एवं फिजियोथैरेपी से इन बीमारियों से बचा जा सकता है। शिविर में मधुमेह की जांच, फिजियोथैरेपी ,फिटनेस जांच, आंखों की रोशनी की जांच के साथ चिकित्सा परामर्श भी दिया गया। शिविर में ग्राम प्रधान प्रतिनिधि अब्बास अली, कमरूद्दीन, पैरामेडिकल एवं नर्सिंग स्टाफ संध्या, कुशुम, खुशबू, पूजा पटेल, कविता, सुनीता, पूजा यादव, रीफत, रूपम, अभिषेक, आनंद तिवारी, भगौती आदि मौजूद रहे। स्वास्थ्य के प्रति छात्रों को किया जागरूक