फटल हर्ट रेट इन हंद

राजकीय स्कूलों में पढ़ने वाले दिव्यांग छात्रों को सभी प्रकार की सुविधा उपलब्ध करवानी होगी। दिव्यांग छात्रों को सुविधा नहीं मिलने की शिकायत पर स्कूल इंचार्ज व संबंधित अध्यापक पर कार्रवाई की जाएगी। सर्व शिक्षा अभियान के तहत दिव्यांग बच्चों की खंड स्तर पर नागरिक अस्पताल में चिकित्सकों द्वारा जांच भी की जाएगी। जिसमें किसी न किसी प्रकार शारीरिक व मानसिक से अक्षमता से ग्रस्त बच्चों की जांच होगी। स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों की एसएसए के तहत निशक्तता के 21 प्रकार व उनके लक्षणों की होगी पहचान होगी। इसके लिए स्कूलों में कार्यरत अध्यापक विशेष आवश्यकता वाले विद्यार्थियों व अभिभावकों को जांच शिविर में लेकर आएंगे। जांच शिविर में अध्यापकों की जिम्मेवारी लेकर आने की होगी। अगर कोई अध्यापक ऐसा नहीं करेगा। उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।