वर्चुअल कर्ट

बक्सर। सोमवार की रात मुरार थाना क्षेत्र के चौगाईं-केड़ी मार्ग पर नागा बाबा पोखरा के समीप एक युवक का शव मिलने से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। मृतक की पहचान दंगौली गांव निवासी बिदेश्वरी ठाकुर के पुत्र मुनमुन ठाकुर (42) वर्ष के रूप में की गई है। युवक पिछले कई साल से चौगाईं स्थित विट्ठल बाबा मंदिर के सामने सैलून चला रहा था। जानकार सूत्रों ने बताया कि युवक ने सोमवार को अपने घर पर कहा था कि उसे चौगाई में किसी शादी समारोह में भाग लेना है जिसके चलते घर नहीं आएगा। सुनसान जगह पर युवक की मौत सड़क दुर्घटना में हुई या फिर साजिश के तहत हत्या की गई, इसको लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। मिली जानकारी के अनुसार सैलून के बगल में किसी व्यक्ति के यहां शादी समारोह में शामिल होने के बाद खाना-पीना चला। लेकिन, नागा बाबा पोखरा के समीप सुनसान जगह पर साइकिल लेकर वह कैसे पहुंच गया, यह सोचनीय है। घटनास्थल से बीस मीटर दूरी तक जमीन पर खून गिरा मिला है। पुलिस प्रथमदृष्टया सड़क दुर्घटना में युवक की मौत की बात कह रही है। जबकि, हत्या कर साक्ष्य मिटाने के लिए सुनसान जगह पर शव फेंके जाने की भी चर्चा हो रही है। सोमवार की रात 12 बजे सूचना मिलते ही मुरार थाना पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और कार्रवाई शुरू कर दी। वहीं, प्रखंड प्रमुख ऋषिकांत सिंह और नचाप पंचायत मुखिया वीर सिंह सहित काफी संख्या में लोग भी पहुंच गए। करीब डेढ़ दशक से चौगाई गांव में सैलून चलाते आ रहे मुनमुन ठाकुर को लोग काफी मिलनसार और सामाजिक युवक बता रहे हैं।