ख ल जर र ह news

इस मामले पर प्रोफेसर अपूर्वानंद का कहना है कि ये बेहद हैरान करने वाला है कि किसी प्रोटेस्ट को सपोर्ट करने वाले को पुलिस दंगों में शामिल समझ रही है. प्रोफेसर अपूर्वानंद ने ये भी कहा कि उम्मीद करते हैं कि पुलिस निष्पक्ष होकर इस मामले की जांच करेगी.