जय फन में एमब जल्द खत्म ह जत है

बरेली, जेएनएन। लव जिहाद कानून बनने के बाद उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम के तहत पहला मुकदमा दर्ज कर भले ही बरेली पुलिस ने सुर्खियां बटोर ली हो लेकिन, यह सुर्खियां ही अब उसके लिए मुसीबत बन रही हैं। मामले की सीधे लखनऊ से मॉनीटरिंग हो रही है।दूसरे दिन भी आराेपित उवैश की गिरफ्तारी नहीं हुई तो अफसरों के पास लखनऊ से फोन घनघनाया।इसके बाद गिरफ्तारी को लेकर पुलिस एकाएक सक्रिय हुई और पांच थानों की पुलिस दबिश को दौड़ी, बावजूद खाली हाथ ही रही। मामले में पूछताछ के लिए उवैश के पांच करीबियों को पुलिस ने हिरासत में लिया है जिसमें उसके रिश्तेदार व दोस्त शामिल हैं।