post office recruitment kerala 2017

वफद की मुलाकात के बाद फेडरेशन अध्यक्ष जगजीत सिंह धूरी ने बताया कि निजी स्कूलों को तालाबंदी दौरान फीसें न लेने के हुक्म कर दिए हैं, जिस कारण एक वित्तीय संकट पैदा हो गया है। पहली तालाबंदी केवल कुछेक दिनों की थी, परंतु यह सरकार की तरफ से लगातार बढ़ाई जा रही है। इस समय दौरान निजी स्कूलों द्वारा आनलाइन पढ़ाई करवाई जा रही है, जिसका अभिभावकों व बच्चों को लाभ पहुंच रहा है। उन्होंने कहा कि सेल्फ फाइनेंस शिक्षा न तो सरकार पर कोई वित्तीय बोझ हैं, बल्कि पंजाब में मानक शिक्षा प्रदान कर रहे है। ज्यादातर स्कूल मैनेजमेंटों ने बैंकों से लिमट प्राप्त की हुई है, जहां बैंकों का ब्याज पड़ रहा है, वहीं ट्रांसपोर्ट समेत टीचिग व नान-टीचिग स्टाफ के खर्च अलग है। सरकार का शिक्षा विभाग लगातार निजी स्कूलों के दाखिलों को खराब कर रहा है, उन्होंने सरकार को प्राइवेट स्कूलों को तबाह करने के रास्ते पर न चलने की अपील की। उन्होंने विधायक गोल्ड़ी से अपील करते हुए यह मामला मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह व शिक्षा मंत्री विजयइंद्र सिगला के ध्यान में लाकर तुरंत स्कूलों को फीसें लेने की आज्ञा देने की मांग की। जगजीत सिंह धूरी ने कहा कि फेडरेशन ने अन्य संगठनों क यह मांग पत्र पंजाब के मंत्रियों व विधायकों को देने का आह्वान किया गया है।