इंडय न्यूज़लैंड वनडे

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन पंजाब के पूर्व राज्य सचिव व सेवानिवृत्त सहायक सिविल सर्जन संगरूर डॉ. सुरिदर सिगला ने कहा कि पंजाब सरकार ने सरकारी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस की फीस में करीब 80 प्रतिशत बढ़ोतरी कर दी है, जिसे सरकार को तुरंत वापस लेना चाहिए। सिगला ने कहा कि पंजाब सरकार सरकारी मेडिकल कॉलेज में इस सेशन से एमबीबीएस फीस 4 लाख 40 हजार रुपये से बढ़ाकर 7 लाख 80 हजार रुपये कर दी है। इससे महामारी के कारण पहले से आर्थिक मंदी का शिकार गरीब व मध्यवर्गीय परिवार ओर मुसीबत में फंस जाएंगे। दाखिला लेने के इच्छुक बच्चों पर इसका बड़ा प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने कहा कि सरकारी नीतियों की वजह से जरूरी सुविधाओं से वंचित सरकारी मेडिकल कॉलेजों में पहले ही छात्र पढ़ाई करने को मजबूर हैं। अब फीस में बढ़ोतरी होने से योग्य एमबीबीएस का कोर्स करने वाले बच्चे पढ़ाई छोड़ने को मजबूर हो सकते हैं। उन्होंने सरकार से मांग की कि मेडिकल कॉलेजों की फीस में बढ़ोतरी वापस ली जाए, ताकि बच्चे अपने व अपने परिवार के सपनों को पूरा कर सकें।