high court case of railway recruitment 2016

उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने कृषि को प्रोत्साहन देने के लिए बजट में 1400 करोड़ रुपए आवण्टित किए हैं। यह बुन्देलखण्ड में केन-बेतवा लिंक से सिंचन क्षेत्र को बढ़ावा देने के साथ पानीदार बनाने की बड़ी पहल की है। केन्द्र सरकार द्वारा जैविक व प्राकृतिक खेती को बढ़ावा दिया जा रहा है। बस, जैविक कॉरिडोर की घोषणा करना ही शेष है। बुन्देलखण्ड में यहाँ न केवल गुणवत्ता युक्त कृषि जिन्स हैं, खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में विकास करके विभिन्न मूल्यसंवर्धित खाद्य उत्पादों व कॉस्मेटिक उत्पादों के निर्माण का हब बन सकता है। आवश्यकता है दूरगामी परिणामों के लिए इस क्षेत्र में कृषि उद्यमिता का ढांचा तैयार करने की। रानी लक्ष्मीाबई केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय फूड पार्क की स्थापना के लिए सक्रिय प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा कि कुलपति प्रो. अरविन्द कुमार के मार्गदर्शन में रानी लक्ष्मीबाई केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय ने आवश्यक ़कदम उठाए हैं। इससे इस क्षेत्र में कृषि की दशा और दिशा को नए आयाम मिलेंगे।