haematinic कैप्सूल हंद में उपयग करत है

हारामऊ के नीरज कुमार, विमल कुमार, रामकुमार, हैदरापुर के वीरेन्द्र कुमार, अण्डवा के विकास कुमार, बच्चीलाल, देवीप्रसाद, सैदलीपुर के महेश सचान आदि किसानों ने बताया कि वर्षा होने के पूर्व बंबों में पानी न आने के कारण नलकूपों से फसलों की सिचाई कर दी थी। अब सींची हुई फसलों में रजबहों का पानी भरने से फसलें चौपट हो रही हैं। नहर विभाग के जेई सुमिरन कुमार ने बताया कि हेड से नहरों में पानी बंद करा दिया गया है फिर भी ऊपर से छोड़ा हुआ पानी नीचे तक बंद होने में एक-दो दिन का समय लग सकता है। वर्षा का भी पानी नहरों में आ जाने से बंबा उफना रहे हैं।