ग ल क ज price ल मन फ लवर

मोदी सरकार द्वारा कोरोना की आड़ में 113 लाख केंद्रीय मुलाजिमों व पेंशनरों की महंगाई भत्ते की जुलाई 2021 तक किश्तें जारी न करने के फरमान की डेमोक्रेटिक टीचर्स फ्रंट पंजाब जिला संगरूर के पदाधिकारियों ने कड़ी निदा की। डेमोक्रेटिक टीचर्स फ्रंट पंजाब जिला संगरूर द्वारा तीन किश्तों के 1.2 लाख करोड़ रुपये जब्त करने का तीखे शब्दों में विरोध किया गया है। फ्रंट के नेता बलवीर चंद लोंगोवाल, हरभगवान गुरने, दाता सिंह नमोल, परविदंर ढींडसा, सुखदेव धूरी, गुरप्रीत बब्बी, विश्वकांत, प्रेम सरूप, जसविदर छाजली, सुखजिदर, यादविदर पाल, रघविदर ने कहा कि केंद्र सरकार का प्रत्येक केंद्रीय मुलाजिमों की मार्च 2021 तक प्रत्येक वेतन में से एक दिन का वेतन काटना भी मुलाजिम विरोधी है, जबकि दूसरी तरफ सरकार कारपोरेट घरानों को 1.5 लाख करोड़ की टैक्स रियायतें, 7.7 लाख करोड़ की कर्जमाफी देकर देश का खजाना लुटाने में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि सरकार के इस फैसले को किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आने वाले समय में इसका सख्त विरोध होगा।