food corporation of india current recruitment

संवाद सूत्र, सुनाम ऊधम सिंह वाला (संगरूर) : भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां के ब्लॉक सुनाम द्वारा ब्लाक अध्यक्ष जसवंत सिंह तोलावाल की अध्यक्षता में अनाज मंडी छाजली में कोरोना के मद्देनजर केंद्र व पंजाब सरकार का अर्थी फूंक प्रदर्शन किया गया। किसानों ने सरकारों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। यूनियन के जिलाध्यक्ष अमरीक सिंह गंढूयां ने कहा कि कोरोना वायरस की नामुराद बीमारी ने पूरी दुनिया को अपनी लपेट में ले रखा है। दिन-प्रतिदिन इस बीमारी के बढ़ रहे केसों प्रति केंद्र व राज्य सरकार कुंभकर्णी नींद सो रही हैं। उन्होंने कहा कि पहले तो सरकारें कोरोना मरीजों को घरों से उठाकर लाती थीं, लेकिन आज कोरोना के पॉजिटिव मरीजों को घरों में छोड़ा जा रहा है। उन्होंने कोरोना पॉजिटिव मरीजों को सरकार सरकारी अस्पतालों में शिफ्ट करें, छोटे-बड़े डाक्टरों, सेहत कर्मचारियों, आशा वर्कर व अन्य स्टाफ का सेहत बीमा 50 लाख रुपये करने, कोरोना मरीजों की सेवा में लगे हर सेहतकर्मी की वेतन में तुरंत बढ़ोतरी करने, किसानों-मजदूरों के हुए नुक्सान की तुरन्त पूर्ति करने, बड़े कारपोरेट घरानों, बड़े माफिया तथा बड़े जागीरदारों पर तुरन्त मासिक टैक्स लगाकर भरपाई करने, पैसे से किरती किसानों-मजदूरों के हो रहे नुक्सान की पूर्ति करने, हर जरूरतमंद का इलाज नि:शुल्क करने, तुरन्त प्राइवेट अस्पतालों को सरकार अपने कब्जे में लेकर कोरोना सहित अन्य गरीब जरूरतमंदों का इलाज इन अस्पतालों में मुफ्त करने की मांग की। साथ ही उन्होंने मांग की कि लाकडाऊन के कारण देश के किसानों व मजूदरों का कर्जा तुरंत माफ किया जाए।