dankuni municipality recruitment 2018

क्लास फोर गवनर्मेंट इंप्लाइज यूनियन पंजाब के फैसले मुताबिक सरकारी व अ‌र्द्ध सरकारी विभाग के दर्जा चार व ठेका कर्मचारियों ने जिला खजाना कार्यालय के समक्ष खाली पीपे बजाकर पंजाब सरकार व वित्त मंत्री के खिलाफ प्रदर्शन किया। राज्य के नेता रणजीत सिंह राणवां, जिला प्रधान मेला सिंह पुन्नावाल, महासचिव रमेश कुमार व पीएसएसएफ के जिला प्रधान सीताराम शर्मा ने कहा कि खजाना कार्याल्य महामारी की आड़ में वित्तीय संकट का बहाना बनाकर सेवामुक्त व स्वर्गीय मुलाजिमों की एजी विभाग से मंजूर हुई पेंशन व ग्रेच्युटी की अदायगी नहीं कर रहे हैं। जीपीएफ एडवांस, मेडिकल बिल भी नहीं दिए जा रहे। पंजाब के खजाना मंत्री द्वारा दर्जा चार मुलाजिमों को गेहूं खरीदने के लिए ऋण रहित कर्ज नहीं दिया गया है। राज्य नेता रणजीत सिंह राणवां ने कहा कि संकट के समय सरकारें मुलाजिम विरोधी फैसले कर रही है। किरती वर्ग की हक की मांगे मानने की बजाय पहले मिलती सुविधाएं छीनी जा रही हैं। डीए की तीन किश्तों व 148 महीने का बकाया देने, छठे पे कमिशन व दिहाड़ीदार, ठेका व आउटसोर्स मुलाजिमों को पक्का करने, केंद्र सरकार की तर्ज पर दिहाड़ी का समय आठ से बढ़ाकर बारह घंटे न करने की मांग की। दस वर्षों से ड्यूटी कर रहे पनग्रेन सिक्योरिटी गार्डों की छंटनी बंद करने, मंडी बोर्ड, सेहत विभाग, जंगलात आदि में आउटसोर्स, ठेका कर्मचारियों को किरत विभाग द्वारा नियमित वेतन देने की मांग की। इसके अलावा सरकार के मंत्री, विधायक, लोकसभा सदस्य कम वेतन समेत साथ पेंशन लेकर आनंद ले रहे हैं। इसलिए तीन जून को राज्य भर में रोष सप्ताह मनाया जाएगा। इसमें महामारी प्रति सावधानी रखते हुए रोष गेट बैठकें, रोष प्रदर्शन व सरकार के पुतले जलाए जाएंगे।