चुनव आयग evm testing news in hindi

भाजपा जिलाध्यक्ष महादेव दुबे ने कहा कि दो लाख 29 हजार किसानों ने पैक्सों में धान बेचने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था, जबकि एक लाख से भी कम किसानों का धान खरीदा गया। शेष किसानों को बिचौलियों के पास औने-पौने दाम पर धान बेचना पड़ा। पैक्सों में जिन किसानों ने धान बेचा है, उन्हें पूरा भुगतान नहीं किया गया है। कोरोना काल में किसान परेशान हैं। उन्हें अविलंब भुगतान किया जाए। 18 मई को भाजपा की सभी इकाइयों के कार्यकर्ता, पदाधिकारी, सांसद, विधायक कोविड-19 को देखते हुए अपने-अपने घर में धरना देकर विरोध जताएंगे। जिला महामंत्री सुभाष चंद्र सिन्हा ने कहा कि कृषि मंत्री किसानों के साथ ऐसा क्रूर मजाक न करें। झारखंड सरकार किसानों का बकाया लाखों रुपये का भुगतान नहीं कर रही है। किसान सरकार की हर नीति को समझती है। गठबंधन सरकार के शीर्ष नेताओं के इशारे पर किसान दिल्ली में धरना पर बैठे हैं। सरकार ऐसे किसानों को समझाने का कष्ट करें, ताकि देश आगे चल सके।