चपई के प्रत्येक चरण में कतन मत्रएं हत हैं

क्लब डायरेक्टर भारती सचदेवा ने बच्चों को फिर से मिलजुल कर खेलने के लिए प्रेरित किया और बच्चों को गेजेट्स से दूर रहकर कुछ समय अपने खिलौनों के साथ खेलने के लिए प्रेरित किया। इस दौरान बच्चों ने डाल हाउस, किचन सेट के साथ, कभी डाक्टर बन तो कभी रिमोट वाले हवाई जहाज को उड़ा खूब मस्ती की। भारती सचदेवा ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम बच्चों में उत्साह और ऊर्जा भरते हैं।