alimco recruitment 2016

अभिभावक राजेंद्र प्रसाद पुत्र रामकिशन वार्ड 2 ने जिला उपायुक्त को भेजी शिकायत में कहा है कि वह अपनी बेटी परी का मेवात मॉडल स्कूल में नर्सरी कक्षा में दाखिले को लेकर दो वर्ष से चक्कर काट रहे हैं। उनकी बेटी की जन्मतिथि 16 अक्टूबर 2013 है। जब गत वर्ष दाखिले को लेकर गए तो स्कूल का दाखिले को लेकर मापदंड था कि साढ़े तीन-साढ़े चार वर्ष तक की आयु के बच्चा ही प्रवेश फॉर्म भर सकता है। मापदंड के अनुरूप बेटी न्यूनतम तय आयु से 15 दिन छोटी थी। जिस वजह से स्कूल प्रशासन ने प्रवेश फॉर्म देने से इंकार कर दिया। उम्मीद थी कि 2018 में इस मापदंड के अनुरूप दाखिला हो ही जाएगा। लेकिन इस वर्ष प्रवेश फॉर्म लेने गया तो कहा कि अब दाखिले को लेकर प्रारूप बदल गया है तथा उस हिसाब से बच्ची की आयु अधिक है। प्रार्थी ने कहा कि दाखिले की वर्षो से बाट जोह रहे बच्चों व अभिभावकों के साथ ये सरासर धोखा है। उपायुक्त को दी शिकायत में प्रार्थी ने यह भी कहा है कि वह बेहद गरीब परिवार से संबंध रखता है तथा निजी स्कूलों का खर्चा वहन करना उसके बस की बात नहीं। वहीं चंद्रवती स्कूल के पास रहने वाले एक अभिभावक ने भी ऐसा ही दुखड़ा व्यक्त किया। उसने कहा कि ये अभिभावकों के साथ स्कूल मैनेजमेंट बोर्ड की धोखाधड़ी हैं तथा इसके विरूद्ध संघर्ष किया जाएगा। मुख्यमंत्री व राज्यपाल को इस संदर्भ में लिखित शिकायत भेजी जाएगी।