यमुन नद प्रदूषण करण मरठ

जासं, एटा: गलियों में जलभराव और टूटी हुई सड़कें दूल्हापुर गांव की पहचान बन गई हैं। सरकारी स्कूल को जाने वाला मार्ग जलभराव के कारण बंद रहता है। छोटे बच्चे स्कूल पहुंचने के लिए दूसरे रास्ते से जाने को विवश हैं। पेयजल के लिए वर्षो बाद भी गांव में ओवरहेड टैंक का निर्माण नहीं हो सका है। आधे गांव में बिजली आपूर्ति भी शुरू नहीं हो सकी है।