उमर कैसे कय जत है

संदीप राजवाड़े | प्रदेश में अब राजधानी रायपुर कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है और यहां 355 मरीज निकल गए हैं। राजधानी में कई तरह की लापरवाही हो रही है, लेकिन सबसे बड़ी गफलत आरोग्य सेतु एप के जरिए की गई है। दरअसल शहर के 384 लोगों ने इस एप में खुद जानकारी अपलोड की कि उनमें दो-तीन लक्षण ऐसे दिख रहे हैं, जो कोरोना के लक्षण बताए गए हैं। एप में डाली गई जानकारी को ट्रैक करते हुए हेल्थ अमले ने इन तमाम लोगों से संपर्क के प्रयास शुरू किए, ताकि इनका सैंपल टेस्ट हो जाए। लेकिन जैसे ही जांच की बात आई, सिर्फ दो लोगों ने ही स्वाब सैंपल दिए। अधिकांश ने अपना फोन ही बंद कर दिया। कुछ ने फोन चालू रखा लेकिन ये कह दिया कि बाहर हैं। कुछ ने हेल्थ अमले को दो-टूक कह दिया कि टेस्ट खुद करवा लेंगे। हेल्थ अफसरों के मुताबिक अगर लोगों ने खुद की लक्षण अपलोड किए हैं, तो उन्हें संक्रमण का खतरा भी हो सकता है।